DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोह में तीन साल से नहीं खुला स्कूल

गोह में तीन साल से नहीं खुला स्कूलगोह, एक संवाददाताऔरंगाबाद (पटना)। स्कूल से बाहर के बच्चों को स्कूल पहुंचाने के लिए सर्व शिक्षा अभियान के तहत जिले में लोग लगे हुए हैं पर दर्जनों स्कूल ऐसे हैं जो सालों से बंद पड़े हुए हैं। ऐसा ही स्कूल है गोह प्रखंड के सागरपुर प्राइमरी स्कूल जहां सामान्य तौर पर तो स्कूल बंद ही है, स्वतंतत्रता दिवस एवं गणतंत्र दिवस पर भी शिक्षक वहां पहुंचने की जहमत नहीं उठाते। गुरूवार को सागरपुर के सैकड़ाें ग्रामीण अपने बच्चों के भविष्य के लिए डीएम से न्याय की गुहार लगाने कलेक्ट्रेट पहुंचे। यहां पहुंचे ग्रामीणों ने बताया कि उनके ग्रांव का प्राथमिक स्कूल पिछले तीन साल से बंद पड़ा है। वहां के बच्चों का भविष्य चौपट हो गया है। इस गांव के आस पास अजान, खरा मोहन, गोविंदपुर, रामपुर तथा फाग गांव में स्कूल है पर इन सभी की दूरी लगभग चार किलो मीटर है। दूरी अधिक होने के कारण इस गांव के बच्चों वहां नहीं पहुंच पाते। स्थानीय ग्रामीण रामानंद शर्मा, जितेन्द्र शर्मा, विजय कुमार यादव, अजय मिस्त्री, प्रमोद पासवान, नाथुन मिस्त्री, योगेश यादव आदि ने बताया कि उनके गांव में चार साल पहले स्कूल भवन के निर्माण के लिए राशि आवंटित हुई थी। निर्माण कार्य अधूरा छोड़ कर ही प्रधान शिक्षक जयप्रकाश नारायण राम अचानक फरार हो गए। बाद में पंचायत शिक्षक धर्मेन्द्र कुमार तथा दिलीप सिंह भी स्कूल आना बंद कर दिए। इस मामले की शिकायत डीएसई एवं बीईओ से की गई। शिकायत पर उस गांव में बीईओ सुहृदय रंजन ओझा वहां पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। बीईओ ने जांच के दौरान पाया कि प्रधान शिक्षक की लापरवाही के कारण ही उस स्कूल का विकास ठप है तथा शैक्षिक कार्य भी बंद है। इस मामले में उन्होंने डीएसई को एक पत्र लिखा जिसमें सागरपुर प्राथमिक विद्यालय के प्रधान शिक्षक जयप्रकाश नारायण राम को निलंबित करने की भी अनुशंसा की गई थी। बीईओ ने बताया कि पिछले तीन सालों में उन्होंने तीन बार उक्त शिक्षक के निलंबन की अनुशंसा की है पर उक्त शिक्षक के विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है। इधर ग्रामीणों ने कहा कि यदि शीघ्र ही उनके गांव का स्कूल नहीं खुलेगा तो वे सड़क पर उतरेंगे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गोह में तीन साल से नहीं खुला स्कूल