DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंजिल छूने को बेकरार धान खरीद अभियान पैक्स-नेफेड ने लक्ष्य से

पटना (हि.ब्यू.)। धान की सरकारी खरीद में बिहार एक बार फिर लक्ष्य की बराबरी करने की ओर बढ़ रहा है। सूखे की वजह से खरीफ मौसम में सात लाख टन धान की सरकार खरीद होनी है। अबतक लगभग सवा छह लाख टन धान खरीद लिया गया है। सरकारी खरीद का सीधा संबंध अधिकाधिक किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ पहुंचाने से जुड़ा है। इस लिहाज से सूखे के बावजूद चालू खरीफ मौसम में यह सरकार की बड़ी उपलब्धि मानी जायेगी। अभियान 31 अप्रैल को समाप्त होगा। ऐसे में खरीद का आंकड़ा आठ लाख टन को भी पार कर जाने की उम्मीद है। सूत्रों के अनुसार खरीफ मौसम 2009-10 में 30 मार्च तक 6,24,857 टन धान की खरीद हुई। इसके अलावा 1,17,787 टन लेवी चावल भी मिला है। पिछले वर्ष अप्रैल के पहले सप्ताह तक धान और लेवी चावल का आंकड़ा क्रमश: 8.14 लाख टन और 1.58 लाख टन था। हालांकि तब लक्ष्य 12.5 लाख टन था। इस बार धान खरीद मामले में खास बात यह है कि राज्य की एजेंसियों ने केन्द्रीय एजेंसियों को पछाड़ दिया है। पैक्स-कृषक सहकारी समिति, बिस्कोमान और राज्य खाद्य निगम ने 3,49,064 टन धान खरीदा है। दूसरी ओर केन्द्रीय एजेंसियों में भारतीय खाद्य निगम और नेफेड ने अबतक 2,75,790 टन धान खरीदे हैं। पैक्स और नेफेड ने अपने-अपने लक्ष्य से अधिक धान की खरीद कर ली है। न्यूनतम समर्थन मूल्य (रुपये प्रति क्विंटल) लाख टनवर्ष साधारण ए ग्रेड बोनस केन्द्र लक्ष्य खरीद2009-10 950 980 50-50 4000 7.00 6.242008-09 850 880 50 3000 12.5 12.352007-08 645 675 50 2596 12.75 6.932006-07 580 610 40 500 25.36 6.77एजेंसियों का प्रदर्शन (टन)एजेंसी लक्ष्य खरीद पैक्स 2,25,000 2,39,025एफसीआई 2,00,000 1,53,281बिस्कोमान 1,00,000 76,748 नेफेड 1,00,000 1,22,509एसएफसी 75,000 33,291

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मंजिल छूने को बेकरार धान खरीद अभियान पैक्स-नेफेड ने लक्ष्य से