डीएसपी को मिलेंगे फ्रूट केक के 40 रुपए - डीएसपी को मिलेंगे फ्रूट केक के 40 रुपए DA Image
10 दिसंबर, 2019|4:11|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएसपी को मिलेंगे फ्रूट केक के 40 रुपए

सुरजीत सिंहचंडीगढ़। पंजाब पुलिस के एक डीएसपी को सिंधी स्वीट्स से खरीदे फ्रूट केक में कीड़े निकलने के एवज में केक की कीमत के 40 रुपए वापस मिलेंगे। केक में कीड़े निकलने की शिकायत जिला उपभोक्ता शिकायत निवारण फोरम से की गई थी और यह साबित हो गया कि केक दूषित था। अब फोरम ने सिंधी स्वीट्स को केक की कीमत लौटाने की हिदायत दी है। इसके साथ ही सिंधी स्वीट्स को पांच हजार रुपए मुआवजे के तौर पर भी डीएसपी को अदा करने पड़ेंगे।फोरम के फैसले के मुताबिक इंटेलिजेंस विंग में तैनात डीएसपी गौतम सिंघल ने सेक्टर-37 स्थित सिंधी स्वीट्स से एक फ्रूट केक समेत खाने का कुछ अन्य सामान खरीदा था और इसकी कीमत 277 रुपए अदा की थी। सिंघल ने घर जाकर देखा कि फ्रूट केक में कीड़ा है। इसकी शिकायत उन्होंने चंडीगढ़ पुलिस से भी की और साथ ही स्वास्थ्य विभाग से संपर्क किया। स्वास्थ्य विभाग ने फ्रूट केक कब्जे में लिया और सेक्टर-11 स्थित लैब से जांच कराई। रिपोर्ट में आया कि केक में पांच मृत कीड़े पड़े हैं। इस रिपोर्ट के आधार पर डीएसपी ने फोरम से शिकायत की।फोरम की शिकायत पर सिंधी स्वीट्स ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि डीएसपी ने बिल में छूट मांगी थी और छूट न देने के चलते वह चिल्लाए भी थे और इसी खुन्नस से उन्होंने केक में खुद कीड़े डाल कर इसकी जांच कराई। यह पक्ष भी रखा गया कि केक की जांच के लिए सही तरीका नहीं अपनाया गया। सिंधी स्वीट्स की ओर से अपने यहां के एक अन्य केक की जांच रिपोर्ट भी फोरम के समक्ष पेश की गई, जिसमें दावा किया गया कि उनके यहां के केक दूषित नहीं होते।फोरम ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद पाया है कि सिंघल चंडीगढ़ के डीएसपी नहीं हैं और दवाब नहीं बना सकते और यह पद प्रथम श्रेणी का पद है और महज 277 रुपए में छूट के लिए ऐसा अधिकारी दवाब नहीं डाल सकता। दूसरे चंडीगढ़ के बारे में यह भलिभांति परिचय है कि यहां न कोई छूट मांगता है और न ही दुकानदार किसी के कहने से छूट देता है। उधर फोरम ने पाया है कि केक में स्पष्ट तौर पर कीड़े देखे जा सकते थे और इसकी फोटो में भी यह स्पष्ट दिख रहा है। लैब की रिपोर्ट में केक एडल्ट्रेटेड़ पाया गया है। दुकान के दूसरे फ्रूट केक की रिपोर्ट की सिंघल के केक की रिपोर्ट से कोई तुलना नहीं की जा सकती, क्योंकि कीड़े कोई नमक या चीनी नहीं है जो सभी केक में एक जैसे घुल जाए। कीड़े किसी एक केक में ही हो सकते हैं, जो लैब से साबित हो गया है। दूसरे सिंधी स्वीट्स ने सिंघल द्वारा केक खरीदने की बात भी स्वीकार की है। फोरम ने सिंधी स्वीट्स को निर्देश दिए हैं कि वह केक की कीमत 40 रुपए डीएसपी को लौटाए और साथ ही पांच हजार रुपए मुआवजा और 1100 रुपए मामले की पैरवी के खर्च के तौर पर अदा करे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: डीएसपी को मिलेंगे फ्रूट केक के 40 रुपए