माओवादियों ने पुलिस बल पर हमला तेज करने का लिया - माओवादियों ने पुलिस बल पर हमला तेज करने का लिया DA Image
11 दिसंबर, 2019|2:13|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माओवादियों ने पुलिस बल पर हमला तेज करने का लिया

िवनायक िवजेतापटना। माओवािदयों के िखलाफ केन्द्र सरकार द्वारा कड़े िनर्णय और ऑपरेशन ग्रीन हंट को मंजूरी के बाद नक्सिलयों ने पुिलस बल पर हमला तेज करने का िनर्णय िलया है। खबर है कि एक गोपनीय स्थान पर जमा हुए शीर्ष नक्सली नेता और उनके सशस्त्र दस्ते के कमांडरों ने इसके िलए रणनीित बनानी शुरू कर दी है। बताया जाता है कि इस बैठक में कई जोनल कमांडर भी मौजूद थे। सूत्र बताते हैं कि इस बैठक में यह भी रणनीित बनायी गई किजिंन क्षेत्रों में थाने पर हमला करने में ज्यादा िरस्क हो वहां के पुिलस गश्ती दल पर गुिरल्ला धावा बोलकर पुिलस के हिथयार लूट िलए जाएं। हालांकि खुिफया तंत्र को नक्सिलयों के इरादे की भनक िमल गई है। खुिफया तंत्र से प्राप्त हुई सूचना के बाद राज्य के ग्रामीण इलाकों में िस्थत थानों को अितिरक्त सतर्कता बरतने के िनर्देश िदए गए हैं। सूत्रों के अनुसार माओवािदयों नेजिंन थानों को अपनी िहट िलस्ट में ले रखा है उनमें पटनाजिंला का भगवानगंज और िसगोड़ी थाना भी शािमल है। नक्सिलयों के टारगेट में होने के बावजूद इन थानों में पर्याप्त पुिलस बल नहीं हैं। िसगोड़ी थाना में जहां बीएमपी के 12 जवान और सैप के 9 जवान तैनात हैं वहीं अित उग्रवाद प्रभािवत भगवानगंज थाने में डीएपी के 10 और सैप के 20 जवान भर हैं। गौरतलब है कि इन दोनों थानों में आने वाला इलाका घोर नक्सल प्रभािवत है और पटना के अलावा अरवल और जहानाबाद जैसे अित उग्रवाद प्रभाािवतजिंले का सीमावर्ती भी है। िसगोड़ी थाना क्षेत्र में ही वर्ष 1998 में पालीगंज के तत्कालीन थाना प्रभारी रमाशंकर िसंह और सीआरपीएफ के एक जवान की हत्या कर उनके हिथयार उग्रवािदयों ने लूट िलए थे। इसके बाद भी 2001 में इसी थाना क्षेत्र में िस्थत जलहचक पुल पर उग्रवािदयों ने पुिलस की गश्ती गाड़ी को उड़ाने के िलए डायनामाइट और केन बम लगाए थे पर समय रहते पुिलस बल को इसका पता चल गया और एक बड़ी घटना टल गई। बताया जाता है कि पटना पुिलस के अिधकािरयों को खुिफया िवभाग से िरपोर्ट िमली है उसमें गश्ती दलों पर भी हमले की आशंका जताते हुए गश्ती के दौरान िवशेष सतर्कता बरतने के िनर्देश िदए गए हैं। सूत्रों के अनुसार थाना प्रभािरयों को भेजे गए संदेश में यह भी कहा गया है कि िवशेषकर रात में किसी अज्ञात द्वारा फोन पर किसी घटना की सूचना िमलने पर जांच-परख कर ही पुिलस बल और अिधकारी भेजे जाएं। एसएसपी िवनीत िवनायक ने बताया कि पटनाजिंले की पुिलस अितिरक्त सतर्कता बरत रही है और नक्सिलयों के किसी मंसूबे को पुिलस कामयाब नहीं होने देगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: माओवादियों ने पुलिस बल पर हमला तेज करने का लिया