काश, तीन दिन पहले पड़ी डकैती से सबक लिया होता - काश, तीन दिन पहले पड़ी डकैती से सबक लिया होता DA Image
10 दिसंबर, 2019|12:39|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काश, तीन दिन पहले पड़ी डकैती से सबक लिया होता

विरष्ठ संवाददाता लखनऊ तीन िदन पहले गोमतीनगर के मकदूमपुर इलाके में भूजल िवभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी भगीरथ पाल के घर भी कच्छा-शर्ट पहने बदमाशों ने डकैती डाली थी। इस वारदात में भी बदमाशों ने पूरे पिरवार को पीटा, िफर बंधक बनाकर लूटपाट की और बाहर से बंद करके भाग िनकले थे। पर, पुिलस अफसरों ने इस घटना से सबक नहीं िलया। पुिलस प्रवक्ता इस घटना को चोरी ही बताते रहे। 15 मार्च की रात भारी संख्या में पुिलस बल रैली के मद्देनजर जगह जगह तैनात रहा। तकरोही पुिलस चौकी पर भी रात में कोई पुिलसकर्मी नहीं था। इस लापरवाही का फायदा उठाकर ही बदमाशों ने िटम्बर स्टोर के मािलक को िनशाना बना िलया। कच्छा बिनयान िगरोह नहीं-एएसपीएएसपी परेश पाण्डेय का कहना हैजिंस तरह से गोमतीनगर और िचनहट में वारदात हुई है, उससे ऐसा नहीं लगता है कि इस वारदात में कच्छा-बिनयान िगरोह का हाथ है। उनका तर्क है कि कच्छा बिनयान िगरोह के लोग घर में घुसते ही हर किसी पर हमला बोलते हैं और किसी को नहीं बख्शते। उन्होंने माना कि गोमती नगर और िचनहट में एक ही िगरोह का हाथ हो सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: काश, तीन दिन पहले पड़ी डकैती से सबक लिया होता