किशोर ने खुदकुशी की विद्यालय की वार्षिक परीक्षा छोड़ दी थी, - किशोर ने खुदकुशी की विद्यालय की वार्षिक परीक्षा छोड़ दी थी, DA Image
11 दिसंबर, 2019|8:51|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किशोर ने खुदकुशी की विद्यालय की वार्षिक परीक्षा छोड़ दी थी,

िनज संवाददाता लखनऊ तालकटोरा में परीक्षा छोड़ने की िशकायत किए जाने के डर से तीसरी कक्षा के छात्र िहमाँशु उर्फ प्राँशु दीिक्षत ने घर में फाँसी लगाकर जान दे दी। उसका शव कमरे में छत के हुक के सहारे रस्सी से लटका िमला। प्राँशु ने वािर्षक परीक्षा छोड़ दी थी। माँ ने उसे डाँटने के साथ ही िपता से िशकायत करने की धमकी दी थी। उधर, गोमतीनगर के मकदूमपुर इलाके में िनजी कंपनी के मजदूर राम प्रवेश यादव ने आग लगाकर खुदकुशी कर ली। उसका शव कमरे में िमला। पारा, तालकटोरा िनवासी परचून दुकानदार पुत्तन दीिक्षत का बेटा प्राँशु (12) इलाके के ही माँ भगवती िवद्या मिंदर िवद्यालय में कक्षा तीन का छात्र था। उसकी दो बहनें व एक छोटा भाई भी इसी िवद्यालय में पढ़ते हैं। इन िदनों िवद्यालय में वािर्षक परीक्षाएँ चल रही हैं। मंगलवार को प्राँशु अपने भाई बहनों के साथ िवद्यालय जाने के िलए िनकला था। पर, िवद्यालय नहीं गया। वह इधर-उधर घूम कर छुट्टी के समय 10.30 बजे घर पहुँच गया। लेकिन उसके पहुँचने से पहले भाई बहनों ने माँ सुधा से प्राँशु की िशकायत कर दी थी। प्राँशु के घर पहुँचते ही सुधा ने परीक्षा छोड़ने के िलए फटकारा। इसके बाद प्राँशु मोहल्ले के लड़कों के साथ मिंदर में होने वाले भण्डारे के पोस्टर चस्पा करने चला गया। कुछ देर बाद उसकी नानी आईं तो सुधा ने उसे घर बुलवाया। वह चाय बनाने लगीं, इसी बीच प्राँशु अपने कमरे में चला गया और भीतर से दरवाजा बंद कर िलया। माँ ने उसे चाय पीने के िलए आवाज लगाई तो वह बोला कि ‘अभी आ रहा हूँ’। कुछ देर बाद सुधा ने उसे िफर आवाज लगाई तो कोई जवाब नहीं िमला। िलहाजा वह प्राँशु के कमरे की ओर गईं तो दरवाजा बंद देखकर िखड़की से झाँका। भीतर प्राँशु फाँसी पर लटक रहा था। इसके बाद उन्होंने पित व पुिलस को सूचना दी। दरवाजा तोड़कर शव िनकला गया। पिरवारीजनों के मुतािबक प्राँशु ने खुदकुशी की है। उधर, गोमतीनगर के मकदूमपुर में राम प्रवेश यादव (25) एल एण्ड टी कंपनी में साँचा बनाने का काम करता था। मूल रूप से कुशीनगर िनवासी राम प्रवेश यहाँ रमेश के मकान में किराए के कमरे पर सहकर्मी िवनोद भारती के साथ रहता था। सुबह िवनोद ने राम प्रवेश से काम पर चलने को कहा तो उसने पेट दर्द का बहाना बना िदया। दोपहर में िवनोद खाना खाने आया तो देखा कि राम प्रवेश का जला हुआ शव कमरे में पड़ा है। पास की िमट्टी के तेल का खाली िडब्बा लुढ़का पड़ा है। पुिलस का कहना है कि राम प्रवेश ने खुदकुशी की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: किशोर ने खुदकुशी की विद्यालय की वार्षिक परीक्षा छोड़ दी थी,