या देवी सर्वभूतेशू.. आज नवदुर्गा के प्रथम स्वरूप शैलपुत्री की आराधना - या देवी सर्वभूतेशू.. आज नवदुर्गा के प्रथम स्वरूप शैलपुत्री की आराधना DA Image
9 दिसंबर, 2019|9:55|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

या देवी सर्वभूतेशू.. आज नवदुर्गा के प्रथम स्वरूप शैलपुत्री की आराधना

हिन्दुस्तान संवाद लखनऊवासंतिक नवरात्र के अवसर पर माँ भगवती की आराधना के लिए पूरी लक्ष्मण नगरी तैयार है। मंदिर जगमगा उठे हैं। साफ-सफाई हो गई है। घरों में भगवती के श्रंगार के लिए नए कपड़े, मुकुट, आसन समेत अन्य चीजें आ गईं हैं। सोमवार को पूजा की दुकानों पर देर रात तक खरीदारों की भीड़ रही।नवरात्र के पहले दिन प्रतिपदा को कलश स्थापना के साथ माँ दुर्गा के प्रथम स्वरूप शैलपुत्री की आराधना होगी। घर हो या मंदिर हर जगह दुर्गा सप्तशती का पाठ होगा। चौक स्थित बड़ी काली जी मंदिर में तैयारी हो गई है। यहाँ लगने वाले मेले में दुकानें सज गई हैं। नौ दिनों तक यहाँ दूरदराज से श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं। यहाँ के छोटी काली मंदिर में भी भक्त माथा टेकेंगे। शास्त्रीनगर दुर्गा मंदिर में ज्वालादेवी से ज्योत आ गई है। मंदिर के प्रबंधक राजेन्द्र गोयल ने बताया कि यहाँ नौ दिन का मेला लगेगा। गुरुवार को चिकित्सा शिविर में दवाएँ और पुस्तक वितरित की जाएगी। 24 मार्च को जागरण और 25 को भण्डारा होगा। ठाकुरगंज स्थित माँ पूर्वी देवी एवं महाकालेश्वर मंदिर सज गए हैं। मीडिया प्रभारी जितेन्द्र शुक्ला ने बताया कि मंदिर में इन नौ दिनों तक पूजा पाठ के साथ भजन कीर्तन भी होगा। अमीनाबाद के हनुमान मंदिर में नौ दुर्गा महायज्ञ एवं भागवत कथा होगी। सवरेदयनगर के मानस विहार स्थित निम्ब दुर्गा मंदिर में भव्य आयोजन किया जाएगा। नौ दिन पूजन के बाद 24 मार्च को श्रीरामचरित मानस का अखण्ड पाठ और 25 को भण्डारा होगा।चंद्रिका देवी में उमड़ी भीड़, मेला आज सेनवरात्र के ठीक दिन पहजे सोमवार को चंद्रिका देवी मेले में बड़ी संख्या में भक्तों की भीड़ रही। सेवक गोला सैनी ने बताया कि देर शाम तक करीब 80 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने माता के दर्शन किए। मेला कमेटी के अध्यक्ष अखिलेश सिंह चौहान ने बताया कि नवरात्र प्रतिपदा से मेला लगेगा। इस दौरान मंदिर का श्रंगार कराने वाले भक्तों की लंबी कतार है। सभी ने अपनी बुकिंग करा ली है। नौ दिन के लिए माँ भगवाती जागरण कराने वाले भक्तों की लिस्ट तैयार हो गई है। मेले की सुरक्षा व्यवस्था को दुरुस्त रखने के लिए सुधन्वा कुण्ड पर पीएसी तैनात हो गई है। क्षेत्रीय पुलिस से लेकर मंदिर के लगभ तीन दर्जन कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगी है। उधर, मलिहाबाद के प्रसिद्ध माँ बाराह देवी मंदिर में सोमवार को श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी। पवित्र चक्रतीर्थ में स्नान के बाद महिलाओं ने मंदिर परिसर में लगे नीम के पेड़ में धागा बाँध कर पति की लम्बी उम्र एवं सुख समृद्धि की मुरादें माँगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: या देवी सर्वभूतेशू.. आज नवदुर्गा के प्रथम स्वरूप शैलपुत्री की आराधना