हत्या, मौत और अगलगी का मामला गरमाया विधानसभा में सदस्यों ने - हत्या, मौत और अगलगी का मामला गरमाया विधानसभा में सदस्यों ने DA Image
11 दिसंबर, 2019|6:37|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हत्या, मौत और अगलगी का मामला गरमाया विधानसभा में सदस्यों ने

पटना (हि.ब्यू.)। अपहृत ट्रैक्टर चालक की हत्या, मध्याह्न् भोजन खाने से दो बच्चों की मौत और दलित बस्ती में अगलगी का मामला विधानसभा में गरमाया रहा। निर्दलीय, जदयू और कांग्रेस के सदस्यों ने शून्य काल में उक्त मामले उठाकर सरकार से कार्रवाई और मुआवजे की मांग की। निर्दलीय किशोर कुमार मुन्ना ने कहा कि इसी वर्ष 16 जनवरी को सहरसा के सुलिन्दाबाद में ट्रैक्टर चालक मो. जसीम का अपहरण हुआ। लेकिन सहरसा और सिमरी बख्तियारपुर की पुलिस ने एक-दूसरे के क्षेत्र का मामला बताकर प्राथमिकी दर्ज नहीं किया। जसीम की पत्नी 20 दिनों तक थानों का चक्कर काटती रही। आखिरकार 7 फरवरी को अपहृत का कंकाल नदी के किनारे से मिला। उन्होंने जसीम की पत्नी को पांच लाख रुपये मुआवजा देने की मांग की। गुड्डी देवी ने कहा कि उनके क्षेत्र में मध्याह्न् भोजन खाकर दो छात्रों की मौत हो गयी है। सरकार को इस पर ध्यान देकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। कांग्रेस ने अवधेश कुमार सिंह ने कहा कि गया के वजीरगंज में 19 दलितों परिवारों की पूरी संपत्ति और मवेशी जल गये। उन्होंने पीडिम्त परिवारों को इंदिरा आवास और मुआवजा देने की मांग की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हत्या, मौत और अगलगी का मामला गरमाया विधानसभा में सदस्यों ने