ओबीसी अध्यापकों की याचिका पर प्रशासन को नोटिस - ओबीसी अध्यापकों की याचिका पर प्रशासन को नोटिस DA Image
17 नबम्बर, 2019|8:28|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओबीसी अध्यापकों की याचिका पर प्रशासन को नोटिस

चंडीगढ़। शिक्षा विभाग द्वारा ओबीसी कोटे के निकाले गए अध्यापकों ने प्रशासन को कैट में घसीट लिया है। नौ में से दो ने कैट में याचिका दायर करके उन्हें बर्खास्त किए जाने को गलत बताते हुए न्याय की गुहार लगाई है। कैट ने इस याचिका पर प्रशासन को नोटिस जारी करके जवाब तलब किया है। प्रशासन को 25 मार्च तक जवाब दायर करना होगा।सावंत और रीना रानी नामक दो अध्यापक उन नौ अध्यापकों में से हैं, जिन्हें शिक्षा विभाग ने बर्खास्त कर दिया था। उनका चयन ओबीसी कोटे के तहत हुआ था, लेकिन विभाग ने बाद में उन्हें कह दिया कि यहां कोटा लागू नहीं होता। इसी को लेकर उक्त दो अध्यापकों ने कैट का दरवाजा खटखटाया और इंसाफ मांगा। उन्होंने अपनी याचिका में कहा है कि यदि चंडीगढ़ में ओबीसी कोटा नहीं था तो उनका चयन इस कोटे के तहत किया ही क्यों गया। अब विभाग यह कैसे कह रहा है कि कोटा नहीं है।अध्यापकों की इस याचिका पर कैट ने गंभीर नोटिस लिया है और प्रशासन को तलब किया है। प्रशासन से जबाव मांगा गया है कि याचिका में लगाए गए आरोपों के बारे उसका क्या कहना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ओबीसी अध्यापकों की याचिका पर प्रशासन को नोटिस