DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ब्याज दरों में कटौती पर विचार करेगा स्टेट बैंक

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने शनिवार को कहा कि वह रिजर्व बैंक की सालाना मौद्रिक नीति घोषित होने के बाद ही कर्ज पर ब्याज दर घटाने के बारे में विचार करेगा। रिजर्व बैंक 17 अप्रैल को वार्षिक मौद्रिक नीति पेश करने वाला है।

स्टेट बैंक के प्रबंध निदेशक तथा समूह के कार्यकारी (नेशनल बैंकिंग) ए़ कष्ण कुमार ने कहा कि निश्चित तौर पर हम आने वाले समय में ब्याज दरों में कटौती पर विचार करेंगे, लेकिन यह रिजर्व बैंक द्वारा नकद आरक्षित अनुपात में कटौती पर निर्भर करेगा।

यहां छठी अंतरराष्ट्रीय बैंकिंग एंड फाइनेंस कांफ्रेन्स में उन्होंने कहा कि मुझे सीआरआर में कटौती की उम्मीद है, लेकिन रेपो दर के बारे में हम आशान्वित नहीं हैं।

सीआरआर के तहत बैंकों को जमा का एक निश्चित प्रतिशत रिजर्व बैंक के पास नकदी के रूप में रखना पड़ता है। फिलहाल सीआरआर 4.75 प्रतिशत है। इससे पहले, स्टेट बैंक चेयरमैन प्रतीप चौधरी ने कहा था कि रिजर्व बैंक सालाना मौद्रिक नीति में सीआरआर में 0.75 प्रतिशत तक कटौती कर सकता है, लेकिन अल्पकालिक नीतिगत ब्याज दरें मौजूदा स्तर 8.5 प्रतिशत पर बरकरार रख सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ब्याज दरों में कटौती पर विचार करेगा स्टेट बैंक