DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बेचैन मां करती है अपने बच्चों की नींद खराब

बेचैनी या चिंता से घिरी महिलाओं को डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए, क्योंकि एक नये अध्ययन के मुताबिक उनके इस व्यवहार का असर सीधे तौर पर उनके नवजात बच्चों की नींद पर पड़ता है।

द डेली टेलीग्राफ की खबर के अनुसार पेनसिल्वेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने अध्ययन कर पता लगाया कि तनाव और बेचैनी का सामना करने वाली माताएं अपने बच्चों की नींद पर असर डाल सकती है।

ऐसा इसलिए होता है कि महिलाएं अपनी चिंता और बेचैनी के चलते सोते बच्चों को सुलाने के बजाय उन्हें लेकर दूध पिलाती हैं, जबकि उन्हें बिस्तर में सोने देना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बेचैन मां करती है अपने बच्चों की नींद खराब