DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीवान में 34 फर्जी शिक्षक होंगे बर्खास्त

बिहार के सीवान जिले में प्रखंड शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की जांच के बाद 34 शिक्षक फर्जी पाए गए हैं। इन सभी को बर्खास्त करने और उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश नियोजन इकाई को दिया गया है।

बसंतपुर प्रखंड में रामकृष्ण द्विवेदी एवं कामेश्वर मांझी के इंटर के प्रमाणपत्र फर्जी पाए गए हैं। जबकि, महाराजगंज में प्रभावती देवी, प्रभा कुमारी, लालमुन निशा, शोभा कुमारी और विभा कुमारी के प्रशिक्षण प्रमाणपत्र और संदीप कुमार के इंटर के प्रमाणपत्र फर्जी मिले हैं।

बड़हरिया में अशोक कुमार नीरज का इंटर का प्रमाणपत्र फर्जी पाया गया है। रघुनाथपुर में उद्धव अनूप का मैट्रिक प्रमाणपत्र व रामरक्षा राज्यभर का बीटीसी प्रमाणपत्र फर्जी है। जीरादेई में प्रभाशंकर तिवारी, धर्मनाथ राम, रेखा देवी, कृष्णा सिंह, अजरुन साह, वृद्धिचंद्र प्रसाद व सरोज कुमार के प्रशिक्षण प्रमाणपत्र फर्जी हैं।

आंदर में पप्पू सिंह, नंदलाल साह, संगीता कुमारी, दिलीप सिंह, पुष्पा कुमारी के इंटर प्रमाणपत्र फर्जी है। दरौंदा में रीता कुमारी, रुबी कुमारी, शैल कुमारी, भगवान राम का इंटर प्रमाणपत्र, कृत्यानंद प्रसाद का मैट्रिक व ब्रजेश कुमार सिंह, सुरेन्द्र कुमार, उपेन्द्र यादव व नीलू कुमारी का शारीरिक प्रशिक्षण प्रमाणपत्र फर्जी है।

डीईओ राधाकृष्ण सिंह यादव ने इन फर्जी शिक्षकों पर एफआईआर करने की अनुशंसा नियोजन इकाई से की है। इस कार्रवाई से फर्जी शिक्षकों में हड़कंप मचा है। मालूम हो कि इसके पहले भी सिसवन प्रखंड में भी 55 शिक्षकों की नियुक्ति फर्जी पायी गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सीवान में 34 फर्जी शिक्षक होंगे बर्खास्त