DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'क्या सुपर कूल' में सेक्स कोई मार्केटिंग टूल नहीं

डायरेक्टर सचिन यार्डी का कहना है कि उन्होंने अपनी फिल्म 'क्या सुपर कूल हैं हम' में सेक्स को मार्केटिंग टूल के रूप में इस्तेमाल नहीं किया है।

यार्डी ने फिल्म के सीक्वल की पहली झलक जारी करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि इस फिल्म को सेक्स कॉमेडी कहा जा रहा है, लेकिन मैं समझता हूं कि यह फिल्म का पागलपन है, जो इसे एक अलग वर्ग की फिल्म बनाता है। किसी ने मुझसे पूछा कि क्या हमने फिल्म में मार्केटिंग टूल के रूप में सेक्स का इस्तेमाल किया है, लेकिन मैं ऐसा नहीं सोचता हूं। मैं इसे सेक्स के बजाय हास्य कहना ज्यादा पसंद करूंगा।
    
उन्होंने कहा कि फिल्म का पहला भाग लगभग छह सात साल पहले 2005 में बना था पहली फिल्म में जो हास्य आपने देखा है इस फिल्म में हास्य को और बढ़ाकर प्रस्तुत किया गया है।
   
फिल्म के दूसरे भाग में तुषार एक संघर्षशील अभिनेता का किरदार निभा रहे हैं जबकि रितेश एक संघर्षशील डीजे का किरदार निभा रहे हैं। दोनों अभिनेताओं की नायिकाएं नेहा शर्मा और साराह जेन डियास हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'क्या सुपर कूल' में सेक्स कोई मार्केटिंग टूल नहीं