DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफगानिस्तान में सेना नहीं भेजेगा रूस

रूस ने कहा है कि वह अफगानिस्तान से उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) की गठबंधन सेनाओं की वापसी के बाद उनके स्थान पर वहां अपनी सेनाएं नहीं भेजेगा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक अमेरिकी व नाटो सेनाएं 2014 तक रक्षा जिम्मेदारियां अफगानी सेना को सौंपकर वहां अपना सामरिक मिशन समाप्त करेंगी।

अफगानिस्तान में रूसी राजदूत जमीर काबुलोव ने बुधवार को कहा कि मुझे इस बात का पूरा विश्वास है कि रूस अफगानिस्तान में अपनी सेनाएं भेजने के लिए तैयार नहीं है। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि अब अमेरिका और नाटो भी इस सम्बंध में दो बार सोचेंगे कि उन्हें अफगानिस्तान में अपनी सेनाएं भेजने की आवश्यकता है या नहीं।

काबुलोव ने कहा कि यह बिल्कुल ऐसा है जैसे अमेरिकी युद्ध हार गए हों और वे देश में बढ़ती अराजकता को रोकने के लिए सही रणनीति तलाशने में असफल रहे हैं। यदि वे जल्दी ही कोई समाधान नहीं ढूंढ़ेंगे तो परिणाम त्रासदीपूर्ण हो सकते हैं।

उन्होंने कहा कि इस बीच अफगानिस्तान में सैन्य स्थिति में स्थायित्व लाने के लिए रूस नाटो व अमेरिका के साथ सहयोग करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि साथ ही रूस अफगानिस्तान के आर्थिक विकास में सहयोग देने के लिए भी तैयार है।

काबुलोव ने कहा कि केवल देश का विकास ही वहां की आंतरिक स्थितियों में स्थायित्व ला सकता है। ऐसी स्थिति में तालिबानी लड़ाके खुद की एक शांतिपूर्ण जीवन में शुरुआत कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अफगानिस्तान में सेना नहीं भेजेगा रूस