DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत को 42 सुखोई लड़ाकू विमान मुहैया कराएगा रूस

रूस भारत को अतिरिक्त 42 सुखोई लड़ाकू विमान मुहैया कराएगा। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के रूस दौरे में यहां हुए दोनों देशों के बीच समझौते के तहत रूस भारत को ये विमान उपलब्ध कराएगा।
    
इस समझौते के साथ ही भारत द्वारा निर्माण के विभिन्न चरणों में हासिल या अनुबंध पर लिये गये एसयू़ सुखोई एमकेआई लड़ाकू विमानों की संख्या 272 हो गयी है। क्रेमलिन में शुक्रवार को 12वें भारत़-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और रूस के राष्ट्रपति दमित्री मेदवेदेव की उपस्थिति में समझौते पर भारत के रक्षा सचिव शशिकांत शर्मा और रूस के रूसी संघ सेवा के सैन्य तकनीक सहयोग के निदेशक एम़ ए़ दमित्रिव ने हस्ताक्षर किये।
    
दोनों देशों के बीच हुए पांच समझौतों में यह समझौता भी शामिल है। इससे पहले पुणे में भारतीय वायु सेना का सुखोई30 विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। दुर्घटना में दोनों पायलट सुरक्षित बच गये लेकिन इससे कुछ तकनीकी सवाल उठ खड़े हुए। इसके बाद सभी 120 विमानों के बेड़े को फिलहाल उड़ान भरने से रोक दिया गया है और जांच जारी है।
    
वर्ष 2000 में एक अंतर सरकार समझौते के तहत एचएएल द्वारा 140 एसयू़30 एमकेआई विमान के निर्माण के लिये दोनों देशों ने दस्तखत किये थे। वर्ष 2007 में 40 और विमानों के निर्माण का समझौता हुआ। इससे पहले 50 एसयू़ 30 विमानों को अलग़ अलग समय में खरीदा गया था और इन्हें सौंपने का काम 90 के दशक में शुरू हुआ था।
    
सुखोई के नवीनतम संस्करण में नया कॉकपिट, उन्नत रडार और रडार से बचने के लिये कुछ अन्य विशेषताएं जोड़े जाने की उम्मीद है। सुखोई30 का उन्नत एमकेआई संस्करण ज्यादा भारी हथियार ढोने में सक्षम होगा, खासकर ब्रहमोस क्रूज मिसाइल का संस्करण। उन्नत सुखोई के 2014 से मिलने की उम्मीद है और अंतिम बेड़ा 2018 तक मिल सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत को 42 सुखोई लड़ाकू विमान मुहैया कराएगा रूस