DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

10 साल बाद अमर हो जाएगा इंसान!

आखिर कौन इंसान जीवित नहीं रहना चाहता है? लगभग सभी लोग अपने परिवार में हमेशा के लिए मौजूद रहना चाहते हैं। कोई अपने परिजनों को खोना नहीं चाहता।

इसी सोच और हॉलीवुड की एनिमेटेड फिल्म 'अवतार' से प्रेरित होकर रूस के एक उद्यमी ने एक महत्वाकांक्षी परियोजना 'अवतार' पर काम शुरू किया है। जिसके तहत आने वाले 10 सालों में इंसानी दिमाग को रोबोट में ट्रांसप्लांट किया जा सकेगा और इंसान अमरत्व को प्राप्त हो जाएगा।

ब्रिटिश अखबार डेली मेल में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार मीडिया उद्यमी इत्सकोव ने इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए 100 वैज्ञानिकों की एक टीम बनाने का दावा किया है। साथ ही इस परियोजना में मदद करने के लिए वह और भी वैज्ञानिकों की तलाश कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि इस परियोजना का उद्देश्य अमरत्व की प्राप्ति करना है। एक इंसान अपने पूर्ण अवतार में समाज में हमेशा के लिए मौजूद रहने के काबिल होगा। लोग मरना नहीं चाहते।

इत्सकोव का कहना है कि वह जानते हैं कि वैज्ञानिकों के लिए यह एक कठिन चुनौती है। लेकिन वह कुछ चीजों में विश्वास करते हैं जिसे आप अमेरिकन ड्रीम कहते हैं। अगर आप अपनी पूरी ऊर्जा और समय किसी चीज में लगाते हैं तो आप उसे वास्तविक स्वरूप दे सकते हैं।

इत्सकोव ने अगले 10 सालों में मानवीय चेतना को रोबोट में ट्रांसप्लांट कर लेने की संभावना व्यक्त की है। उन्हें उम्मीद है कि तब बिना ऑपरेशन के इंसानी दिमाग को रोबोट में 'अपलोड' किया जा सकेगा और फिर इंसानी शरीर से मुक्ति मिल जाएगी क्योंकि वह रोबोट के अंदर जीवित रहेगा।

ग्लोबल फ्यूचर-2045 कांफ्रेंस में इत्सकोव ने बताया कि उसके बाद वैज्ञानिक इंसानों के लिए एक नए शरीर का निर्माण करेंगे। उन्होंने कहा कि उसमें ब्रेन मशीन इंटरफेस उपलब्‍ध होगा, जिसमें नियंत्रण के साथ-साथ इंसानी दिमाग के लिए लाइफ सपोर्ट सिस्टम भी होगा ताकि दिमाग शरीर के बाहर भी जीवित रह सके।

यह तकनीक विक्लांग और मौत के कगार पर पहुंचे इंसानों के लिए फायदेमंद होगी। उन्होंने बताया कि परियोजना के तीसरे चरण में वैज्ञानिक एक ‌कृत्रिम इंसानी दिमाग भी बनाएंगे। उनका अंतिम लक्ष्य कृत्रिम शरीर में एक इंसानी दिमाग को 'अपलोड' करना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:10 साल बाद अमर हो जाएगा इंसान!