DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली के कुछ विश्वविद्यालय शुरू कराएंगे रिटेल पर पढ़ाई

रिटेल में सीधे विदेशी निवेश (एफडीआई) को लेकर जहां एक तरफ देशभर में बहस छिड़ी है, वहीं शिक्षा के क्षेत्र में यह प्रयास उन्नति की तरह देखा जा रहा है। इस दिशा में दिल्ली के कुछ विश्वविद्यालय रिटेल में नए कोर्स शुरू करने की बात कह रहे हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार जिस तरह गत वर्षो में बैंकिंग, इंश्योरेंस, बीपीओ आदि क्षेत्रों ने अपनी पकड़ मजबूत बनाई है, उसी तरह भविष्य में रिटेल की मांग भी कई गुना बढ़ेगी। गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर डी. के. बंदोपाध्याय ने बताया कि विश्वविद्यालय और आईपी से मान्यता प्राप्त निजी कॉलेजों में रिटेल में बीबीए और एमबीए के कोर्स शुरू किए जाएंगे। चूंकि एमबीए की दाखिला प्रक्रिया तय हो चुकी है इसलिए नए सत्र में सिर्फ बीबीए में ही रिटेल को लिया जाएगा। अलगे सत्र से एमबीए में भी इसे शामिल किया जाएगा। डीयू के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स के प्राचार्य पी. सी. जैन ने बताया कि हालांकि अब भी कुछ जगह रिटेल मैनेजमेंट पर कोर्स मौजूद हैं लेकिन इनमें छात्रों के पास बहुत कम विकल्प बचते हैं। इसकी वजह से ज्यादातर छात्र विदेश चले जाते हैं। मैनेजमेंट डेवेलपमेंट इंस्टीटय़ूट के मार्केटिंग प्रोफसर संजय चंदवानी ने बताया कि रिटेल की पढ़ाई के लिए फिलहाल विशेषज्ञों की कमी है।

यहां पड़ेगी जरूरत

सप्लाई चेन मैनेजमेंट
मर्चेट राइडर्स
प्रीक्योरमेंट मैनेजमेंट
कस्टमर सर्विस स्पेशलिस्ट
स्टोर ऑपरेशन मैनेजर
विज्वुल मर्चेट राइडर्स
रिटेल में ह्यूमन रिर्सोसेज स्पेशलिस्ट
ऐनलिस्ट

यहां कमा सकेंगे
वर्तमान समय में रिटेल में आमदनी बहुत कम है लेकिन जैसे-जैसे देश में इस क्षेत्र की मांग बढ़ेगी वैसे ही इसकी आमदनी में भी इजाफा होगा। प्रोफसर संजय ने बताया कि अभी ग्राहक की उम्मीदें इस क्षेत्र में न के बराबर हैं लेकिन जैसे ही ग्राहक को वर्ल्ड क्लास सर्विस मिलेगी उसकी उम्मीदें भी उसी अनुपात से बढ़ेंगी। इससे देश में रोजगार के  उत्पन्न होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली के कुछ विश्वविद्यालय शुरू कराएंगे रिटेल पर पढ़ाई