DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

होली के दौरान राज्य भर में 40 की गई जान

होली के दौरान आठ और नौ मार्च को राज्य भर में 40 लोगों की जान गई, जबकि 40 अन्य घायल हो गए। सबसे लोमहर्षक घटना सात मार्च की देर रात चतरा के हंटरगंज में हुई, जहां एक युवक को होलिका दहन की आग में जिंदा जला दिया गया। इसके अलावा लोहरदगा में पाहन दंपती की हत्या कर दी गई, जबकि लातेहार के बरवाडीह में भी दो युवकों की हत्या की गई। राजधानी में भी दो लोग मारे गए।

हंटरगंज प्रखंड के कसियाडीह गांव में होलिका दहन के दौरान कुछ लोगों ने नारायण यादव के पुत्र गुड्डू यादव (16) को अगजा में डाल दिया। उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। घटना के बाद से पूरे गांव में तनाव है। यह घटना जमीन विवाद के कारण हुई। सभी आरोपी फरार हैं। इसी प्रखंड में एक महिला ने अपनी दो साल की बेटी के साथ कुएं में कूद कर आत्महत्या कर ली। उधर इटखोरी के थवई निवासी धनु भगत की हत्या आठ मार्च को कर दी गई। उसका शव कुएं से बरामद किया गया।

इधर हजारीबाग के  इचाक थाना क्षेत्र के गरडीह गांव निवासी चंदर सिंह (35) की भी हत्या कर दी गई। उधर कटकमदाग प्रखंड के पुंदरी गांव में कुंदन साव और उसके पुत्र बंटी साव ने विजय भुइयां (23) को मार डाला।

लातेहार के बरवाडीह थाना क्षेत्र के बारीदोहर (टोला लुत्ती पत्थर) में लड़की से छेड़खानी करने के आरोप में गुरुवार की देर शाम दो युवकों जयप्रकाश सिंह (20) और नीरज सिंह(18) की हत्या कर दी गई। इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

गढ़वा जिले के रंका थाना क्षेत्र में नथुनी भुइयां की हत्या ग्रामीणों ने कर दी, वहीं रमकंडा थाना क्षेत्र के मुड़खुड़ टोला के पियाही टांड़ निवासी पारसनाथ मुंडरी की इलाज के दौरान रिम्स में मौत हो गई। नगर ऊंटारी निवासी शिक्षक अवलेश दास की मौत गुरुवार को बाइक दुर्घटना में हो गई।

मेदिनीनगर के जयमारन/पथरा गांव में दहेज को लेकर 25 वर्षीया विवाहिता पूनम देवी की हत्या सात मार्च को कर दी गई, जबकि हरिहरगंज शहर से सटे पाठक बिगहा गांव में बिजली प्रवाहित तार की मरम्मति के क्रम में एक युवक उपेन्द्र चौधरी की मौत हो गई। इधर विश्रमपुर नगर पंचायत क्षेत्र के सोरडीहा में इंटर के परीक्षार्थी अरविंद विश्वकर्मा की मौत छत से गिरकर हो गई।

इधर गुमला के बसिया थाना क्षेत्र के तालेसेरा गांव निवासी पुजार सिंघा मुंडा (40) का शव गुरुवार की सुबह बरामद किया गया, जबकि भरनो अंबोवा निवासी विकास साव की मौत करंट लगने से हो गई।

दुंबो खक्सीटोली निवासी बिरसी उरांव की हत्या डायन बिसाही के आरोप में कर दी गई। सिमडेगा के कोलेबिरा थाना क्षेत्र के शहपुर निवासी सावन खड़िया ने अपनी पत्नी शनिचारो खड़िया की हथौड़ी से मार कर हत्या कर दी।

इसके बाद उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इसी थाना क्षेत्र में गुमला जिला के घाघरा निवासी सुनील साहू और उनकी पत्नी पूजा देवी की मौत ट्रेलर की चपेट में आने से हो गई, जबकि सदर थाना क्षेत्र के बड़कीछापर निवासी अंकेल डुंगडुंग की लाश कुएं से बरामद की गई।

धनबाद के प्रमोद शर्मा की सिंदरी में हत्या कर दी गई। वहीं भूली, तोपचांची और मटकुरिया में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में चार युवकों की मौत हो गई। गिरिडीह के अहिल्यापुर थाना क्षेत्र के बुधुडीह  गांव में देवर ने भाभी के साथ होली खेल ली, तो बिफरे परिजनों ने उसकी हत्या कर दी। देवघर में होली में विभिन्न कारणों से पांच लोगों की मौत हो गई।

दुमका जिले में तीन लोगों की मौत हो गई। इधर राजधानी में दो हत्याएं हुई। लालपुर थाना क्षेत्र स्थित करमटोली में कल्लू रजक ने अपने नौकर शिबू तिर्की को मजाक-मजाक में गोली मार दी। इससे शिबू की मौके पर ही मौत हो गई। उधर गोस्सनर कॉलेज के छात्र असीम केरके ट्टा की भी गोली मार कर हत्या कर दी गई। अत्यधिक शराब पीने से लालपुर इलाके के सरायीटांड के रहने वाले छोटू कच्छप की रिम्स में इलाज के दौरान मौत हो गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:होली के दौरान राज्य भर में 40 की गई जान