DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीएनटी में संशोधन का विचार नहीं : सीएम

मुख्यमंत्री अजरुन मुंडा ने सीएनटी एक्ट में संशोधन से इंकार कर दिया है। उन्होंने कहा : ऐसा कोई विचार सरकार के पास नहीं है। सरकार इस मुद्दे पर विधानसभा के अंदर चर्चा कराने के लिए तैयार है। सोमवार को मुख्यमंत्री प्रश्नकाल में झाविमो विधायक दल नेता प्रदीप यादव ने पूछा कि क्या सरकार सीएनटी और एसपीटी एक्ट में संशोधन करने का विचार रखती है।

हाइकोर्ट ने सिर्फ व्याख्या की
मुख्यमंत्री ने कहा कि हाइकोर्ट ने फैसले में सीएनटी कानून की व्याख्या की है। उसने इतना ही कहा है कि कानून क्या कहता है। कोर्ट का निर्णय कानून के खिलाफ नहीं है। उसने सिर्फ प्रावधान बताया है। ऐसे में कानून में संशोधन की बात उचित नहीं है। सीएम ने कहा कि समय-समय पर एक्ट को लेकर क्या हुआ। आगे क्या होने की संभावना है। उस पर चर्चा होती है। कानून स्वतंत्र रूप से है। अभी ऐसा कोई विषय नहीं है कि संशोधन का प्रस्ताव लाएं।

संशोधन की बात गलत
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार सीएनटी को लेकर सदन के अंदर बहस कराने को तैयार है। इस दृष्टि से नहीं सोचा जाना चाहिए कि कानून किसी के लिए उपयुक्त नहीं है, तो बलात (जबरदस्ती) कहे कि कानून को मेरे अनुकूल बनाएं। मुख्यमंत्री ने दोबारा दोहराया कि संशोधन का विचार सरकार के पास नहीं है। उन्होंने कहा कि हाइकोर्ट की व्याख्या के बाद कोई कहे कि संशोधन होना चाहिए, तो यह गलत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सीएनटी में संशोधन का विचार नहीं : सीएम