DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेलवे बोर्ड का होगा पुनर्गठन

रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी ने रेलवे बोर्ड को बदलते समय की चुनौतियों से निपटने लायक बनाने के लिए उसके मौजूदा ढांचे में कुछ परिवर्तन की जोरदार वकालत की। उन्होंने बोर्ड में दो नए सदस्य नियुक्त करने का भी प्रस्ताव किया।

रेल मंत्री ने लोकसभा में 2012-13 का रेल बजट पेश करते हुए कहा कि मैं भारतीय रेलवे को बदलते आर्थिक परिदृश्य के प्रति जवाबदेह बनाने के लिए मजबूत बनाना चाहता हूं और इसे नए अवसरों का लाभ उठाने के लिए सुसज्जित करना चाहता हूं। इसके लिए जवाबदेही सुनिश्चित करने और इसके ढांचे को संगठनात्मक उददेश्यों के अनुरूप बनाने की आवश्यकता होगी। बोर्ड को कारपोरेट उद्देश्यों के अनुरूप व्यवसाय की तर्ज वाले ढांचे पर गठित करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमें ऐसी प्रणाली चाहिए जो उत्कृष्ट सेवा प्रदान करे और इस मामले पर बोर्ड और रेल परिवार के साथ गहन चर्चा की आवश्यकता है। त्रिवेदी ने बोर्ड के पुनर्गठन की जरूरत बताते हुए कहा कि मेरे सामने रेलवे को एक ऐसी प्रणाली बनाने की चुनौती है जो सुरक्षित आधुनिक और कुशल हो।
 
उन्होंने कहा कि रेलवे बुनियादी ढांचे के लिए आवश्यक संसाधनों की सूची काफी लंबी है और अतिरिक्त राजस्व जुटाने के लिए रेलवे के प्रयासों को बल प्रदान करने के उद्देश्य से दो और नए रेलवे बोर्ड सदस्य बनाने का फैसला किया गया है। ये दो सदस्य सार्वजनिक-निजी साझेदारी (पीपीपी), विपणन एवं संरक्षा-अनुसंधान क्षेत्रों से जुडे होंगे और उन्हें संसाधन को बढ़ाने के तौर तरीकों का पता लगाने तथा संरक्षा पर और ज्यादा जोर देने की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रेलवे बोर्ड का होगा पुनर्गठन