DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोनिया की नजर युवाओं महिलाओं और मध्य वर्ग पर

राहुल गांधी को उपाध्यक्ष बनाये जाने के एक दिन बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने लोकसभा चुनावों से पहले पार्टी का आधार मजबूत करने की कवायद में आज युवाओं, महिलाओं और मध्य वर्ग के लोगों को आकर्षित करने की कोशिश की।

दो दिन के चिन्तन शिविर के बाद अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सत्र की शुरुआत करते हुए सोनिया ने पार्टीजन से कहा कि उन्हें भाई भतीजावाद में नहीं फंसना चाहिए।

उन्होंने आगाह किया कि लोकसभा के चुनाव में सिर्फ 15 महीने रह गए हैं और उसमें अच्छा प्रदर्शन करने के लिए सबसे बड़ी चुनौती खुद की एकजुटता और अनुशासन बनाए रखने की है।

सोनिया ने कहा कि अगले 15 महीनों में लोकसभा के अलावा कई राज्यों में भी चुनाव होने हैं और  मुझे विश्वास है कि यदि हम सही तरीके से तथा एकता के साथ काम करेंगे तो कोई वजह नहीं कि हमें फिर से जनादेश न मिले।

देश विदेश और संगठन के मसलों पर चिन्तन शिविर में हुए गहन विचार विमर्श की प्रक्रिया में युवाओं की हिस्सेदारी पर खुशी जताते हुए उन्होंने उम्मीद जतायी कि इससे पार्टी को नया नेतृत्व आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी।

देश के मध्य वर्ग का ध्यान रखते हुए सोनिया ने दिल्ली सामूहिक बलात्कार घटना के परिप्रेक्ष्य में महिला सशक्तीकरण की बात की तो सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार से लड़ाई की आवश्यकता भी जतायी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोनिया की नजर युवाओं महिलाओं और मध्य वर्ग पर