DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूली स्तर से व्यावसायिक शिक्षा देने को बनेगा पाठयक्रम

सरकार 2013 से स्कूल से स्नातक स्तर तक व्यावसायिक पाठयक्रम शुरू करने जा रही है। जून 2012 से कॉलेजों के लिए व्यावसायिक पाठयक्रम तैयार करने का काम शुरू कर दिया जाएगा। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक अधिकारी का कहना है कि राज्यों के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा सचिवों की 13 अप्रैल को होने वाली बैठक में इसे अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है।

राष्ट्रीय व्यावसायिक शिक्षा पात्रता ढांचा (एनवीईक्यूएफ) पर राज्यों के शिक्षा मंत्रियों की समिति की रिपोर्ट को मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने स्वीकार कर लिया है। इस कार्यक्रम पर साल 2013 से अमल करने की योजना है। अधिकारी ने कहा कि सरकार नौवीं कक्षा से स्कूलों में व्यावसायिक शिक्षा पाठयक्रम शुरू करना चाहती है, जो अभी तक स्नातक स्तर तक है। सरकार ने व्यावसायिक शिक्षा पाठयक्रम का जो खाका तैयार किया है, उसमें सात स्तरों के प्रमाणन की व्यवस्था होगी। यह प्रमाणन स्नातक स्तर तक होगा। पहले दो स्तरों तक पढ़ाई और प्रशिक्षण कार्य सीबीएसई एवं राज्य शिक्षा बोर्ड के तहत होगा। इस कार्यक्रम के तहत छात्रों को प्रतिवर्ष 1000 घंटे से 1200 घंटे तक पढ़ाई एवं प्रशिक्षण आवश्यक रूप से दिया जाएगा। यह नौवीं, दसवीं, ग्यारहवीं और बारहवीं स्तर पर होगा। इसे स्नातक स्तर तक आगे बढ़ाया जाएगा। आंकड़ों के मुताबिक कक्षा 11वीं और 12वीं के सिर्फ तीन प्रतिशत बच्चे व्यावसायिक शिक्षा पाठयक्रम के दायरे में आते हैं।

क्या है खाका
प्रस्ताव के तहत विभिन्न विषयों के कई घटकों को अलग-अलग व्यवसायिक कोर्स बनाया जाएगा। इसके लिए विषयों के अनुरूप कोर्स के प्रस्ताव दिए गए हैं।

ऑटोमोबाइल, सॉफ्टवेयर विकास और दूससंचार: ऑटोमोबाइल में चार विषय इंजन जांच, वाहन जांच, वाहन की गुणवत्ता, ऑटोमोबाइल इलेक्ट्रिकल्स एवं मशीनरी हैं।
मार्केटिंग-मनोरंजन: इसमें थिएटर, पारंपरिक पश्चिमी नृत्य, नाटय़ शिक्षा व नृत्य शामिल हैं।

निर्माण,पर्यटन और पब्लिशिंग
निर्माण क्षेत्र में इमारत निर्माण, एप्लायड साइंस के क्षेत्र में फैशन टेक्नोलॉजी, आंतरिक सज्ज और आभूषण निर्माण को रखा गया है। पर्यटन क्षेत्र में पर्यटन सेवा विषय रखा गया है। पिंट्रिंग और पब्लिशिंग को एक विषय के रूप में रखा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्कूली स्तर से व्यावसायिक शिक्षा देने को बनेगा पाठयक्रम