DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्भवती महिलाओं को चाहिए 'कूल' माहौल

मां बनने वाली महिलाओं को चौकन्ना हो जाने वाली खबर है। नए अध्ययन में शरीर के तापमान में बढोतरी और मृत बच्चों व समय पूर्व बच्चा होने जैसी घटनाओं के बीच संबंध देखने को मिला है।
    
क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी ऑफ टैक्नोलॉजी की अगुवाई में एक अंतरराष्ट्रीय टीम ने अपने चार वर्ष के अध्ययन में समय पूर्व बच्चा और मृत बच्चा होने की घटनाओं पर गौर किया। टीम की अगुवाई कर रहे प्रोफेसर एड्रियन बर्नेट ने कहा कि इस अवधि के दौरान कुल 1,01,870 बच्चों के जन्म पर निगरानी रखी गयी और इसमें 653 मृत शिशुओं का जन्म हुआ।
    
उन्होंने कहा कि हमने पाया कि तापमान में बढोतरी से मृत बच्चों की आशंका बढ गयी और 28 सप्ताह से पहले गर्भावस्था के शुरुआती चरणों के लिए भी यह नतीजा सत्य पाया गया। हमारे अनुमानों के तहत 15 डिग्री सेल्सियस तापमान में प्रति 1,00,000 गर्भवती महिलाओं पर 353 मृत बच्चों का अंदेशा रहता है तो 23 डिग्री सेल्सियस में इसकी आशंका बढकर 610 हो जाती है।
    
प्रोफेसर बर्नेट ने कहा कि ऐसे बच्चों में आगामी दिनों में भी स्वास्थ्य से संबंधित गंभीर परेशानियों का भी अंदेशा रहता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गर्भवती महिलाओं को चाहिए 'कूल' माहौल