DA Image
21 जनवरी, 2020|5:10|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली संकट पर विचार के लिए मुख्यमंत्रियों की बैठक

नवनियुक्त बिजली मंत्री वीरप्पा मोइली ने ग्रिड के ठप होने की वजह से बिजली संकट झेलने वाले कुछ राज्यों के मुख्यमंत्रियों की 6 अगस्त को बैठक बुलाई है। पारेषण ग्रिड में गड़बड़ी की वजह से देश की लगभग आधी आबादी को मंगलवार को गंभीर बिजली संकट से दोचार होना पड़ा।

मोइली ने आज यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अब स्थिति पूरी तरह सामान्य हो चुकी है। 100 प्रतिशत बिजली बहाल हो गई है। मैं देश को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि पिछले दो-तीन दिन में जो हुआ है, वह फिर नहीं होगा।

आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों तथा संघ शासित प्रदेश चंडीगढ़ के प्रशासक की बैठक 6 अगस्त को बुलाई गई है। मोइली ने आज ही बिजली मंत्री का अतिरिक्त कार्यभार संभाला है।

उन्होंने कहा कि हमें लगता है कि यह उचित होगा कि सभी प्रभावित राज्यों और एक संघ शासित प्रदेश की 6 अगस्त को दोपहर में बैठक बुलाई जाए। मंगलवार को उत्तरी के अलावा पूर्वी तथा पूर्वोत्तर ग्रिड के फेल हो जाने की वजह से करीब 60 करोड़ आबादी को बिजली संकट झेलना पड़ा। इससे एक दिन पहले ही उत्तरी ग्रिड ठप हो गई थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:बिजली संकट पर विचार के लिए मुख्यमंत्रियों की बैठक