DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीसरा मोर्चा अव्यहारिकः रामविलास

लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के अध्यक्ष और पूर्व केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने रविवार को तीसरे मोर्चे को अव्यवहारिक बताया और कहा कि कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को अलग रखकर केन्द्र में किसी भी सरकार के गठन की कल्पना नहीं की जा सकती है।

पासवान ने यहां पार्टी के प्रदेश कार्यालय में कहा कि जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के वरिष्ठ नेता और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक तरफ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में बने रहने की बात कहते हैं वहीं उनकी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव तीसरा मोर्चा बनाने की वकालत कर रहे हैं जो अपने आप में विरोधाभास है।

उन्होंने कहा कि राजनीतिक वास्तविकता है कि कांग्रेस और भाजपा को दरकिनार करके केन्द्र में किसी सरकार के गठन की कल्पना ही नहीं की जा सकती है। लोजपा अध्यक्ष ने कहा कि लोकसभा चुनाव के पूर्व या चुनाव के बाद कांग्रेस या भाजपा के बगैर समर्थन हासिल किए किसी भी गठबंधन के लिए केन्द्र में सरकार बनाना असंभव होगा।

उन्होंने कहा कि ऐसे भी तीसरे मोर्चे की चर्चा सिर्फ एक अटकलबाजी मात्र ही है क्योंकि इसका कोई भविष्य नहीं दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि जदयू यदि भाजपा के साथ मिलकर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उतरती तो जदयू की प्रतिष्ठा बची रहती। उन्होंने कहा कि जदयू की स्थिति जो उत्तर प्रदेश में हुई है वैसी हीं स्थिति बिहार में आगामी चुनाव के समय होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तीसरा मोर्चा अव्यहारिकः रामविलास