DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजग के छह सदस्य राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित

बिहार से राज्यसभा की छह सीटों के लिए हुए द्विवार्षिक चुनाव में शुक्रवार को मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के समर्थन से खड़े एक निर्दलीय उम्मीदवार के नाम वापस लिए जाने के साथ ही सत्तारुढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के सभी छह प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए।

बिहार विधानसभा के सचिव एवं निर्वाचन पदाधिकारी लक्ष्मीकांत झा ने यहां बताया कि नाम वापस लेने के अंतिम दिन शुक्रवार को राजद और उसकी सहयोगी लोजपा के समर्थन से चुनाव में खडे़ निर्दलीय उम्मीदवार अशफाक करीम ने अपना नाम वापस ले लिया।

उन्होंने बताया कि करीम के नाम वापस लेने के साथ ही राजग की ओर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के रविशंकर प्रसाद और धर्मेन्द्र प्रधान, जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के अली अनवर, अनिल सहनी, महेन्द्र प्रसाद और वशिष्ठ नारायण सिंह निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए।

गौरतलब है कि जदयू के अली अनवर, अनिल सहनी, महेन्द्र प्रसाद, भाजपा के रविशंकर प्रसाद,  राजद के जाबिर हुसैन और राजनीति प्रसाद के दो अप्रैल को कार्यकाल पूरा होने के कारण रिक्त हो रही सीटों के चुनाव के लिए मतदान 30 मार्च को होना था।

करीम के नामांकन वापस लेने के बाद मतदान की कोई आवश्यकता नहीं रह जाने के कारण शेष सभी छह उम्मीदवारो को निर्वाचित घोषित कर दिया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि भाजपा के उम्मीदवार के रूप में बिहार से निर्वाचित हुए धमेन्द्र प्रधान का एक अलग महत्व है।

उन्होंने कहा कि यह एक सुखद संयोग है कि 100 वर्ष पूर्व बिहार उड़ीसा से अलग होकर एक नए राज्य के रूप में स्थापित हुआ था और आज वहीं के नेता प्रधान बिहार से निर्वाचित होकर राज्यसभा जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राजग के छह सदस्य राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित