DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उग्रवाद प्रभावित जिलों में खुलेंगे आईटीआई

बिहार के छह उग्रवाद प्रभावित जिलों में आईटीआई एवं कौशल विकास केन्द्र खोले जाएंगे। इसके लिए जमुई, गया, औरंगाबाद, रोहतास, जहानाबाद और अरवल जिलों का चयन किया गया है। इसके लिए राज्य सरकार ने भूमि आवंटन कर केन्द्र सरकार को सूची भेज दी है।
इनमें से तीन जिलों जमुई, अरवल एवं जहानाबाद में काम शुरू करने के लिए भवन निर्माण विभाग को जिम्मेदारी सौंप दी गई है। उम्मीद कि वर्ष 2013 तक भवन बनकर तैयार हो जाएगा। राज्य एवं केन्द्र सरकार के सहयोग से ये दोनों केंद्र खोले जाएंगे। इसमें केन्द्र सरकार 75 प्रतिशत एवं राज्य सरकार 25 प्रतिशत सहयोग करेगी। इधर, राज्य सरकार ने केन्द्र सरकार को एक पत्र लिखकर पैसे की मांग की है।

केन्द्र सरकार उग्रवाद प्रभावित नौ राज्यों में 34 औद्योगिक प्रशिक्षण केन्द्र (आईटीआई) एवं 68 कौशल विकास केन्द्र खोलेगी। इनमें बिहार, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, उत्तर प्रदेश, झारखंड, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल शामिल हैं।

जिन-जिन राज्यों के जिलों का चयन किया गया है उन सभी जिलों में एक औद्योगिक प्रशिक्षण केन्द्र एवं दो कौशल विकास केन्द्र खोले जाएंगे। इनमें सबसे अधिक झारखंड राज्य में खुलेंगे। झारखंड के 10 जिलों में खोले जाएंगे। दूसरे नम्बर में छत्तीसगढ़ है जहां 7 जिलों में इसे खोलने की योजना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उग्रवाद प्रभावित जिलों में खुलेंगे आईटीआई