DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिथिला चित्रकला संस्थान में बनेगा अंतरराष्ट्रीय स्तर का संग्रहालय

मधुबनी जिले के सौराठ स्थित मिथिला चित्रकला संस्थान में अंतरराष्ट्रीय स्तर का संग्रहालय बनेगा और छात्रवास की व्यवस्था होगी। साथ ही, उस संस्थान की संबद्धता आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय से कराई जाएगी।

विधान परिषद के सभापति ताराकांत झा की अध्यक्षता में उनके कार्यालय कक्ष में सोमवार को हुई बैठक में लिए गए फैसले के अनुसार संस्थान के विकास के लिए तीन सदस्यीय समिति बनाई जाएगी। समिति वहां की आधारभूत संरचना के विकास के साथ दी जा रही  शिक्षा के स्वरूप पर विचार करेगी।

साथ ही अगले वित्तीय वर्ष में बजट आवंटन का प्रस्ताव तैयार करेगी। संस्थान में उत्पादित वस्तुओं की बिक्री के लिए बगल में स्थित आरके कॉलेज के पास की भूमि का इस्तेमाल किया जाएगा।

देश की अन्य संस्थाओं का अध्ययन कर समिति संस्थान के विकास की डीपीआर का प्रस्ताव तैयार करेगी। डीपीआर के लिए तीन महीने का समय दिया जाएगा। उच्च शिक्षा निदेशक सीताराम सिंह, सांस्कृतिक कार्य निदेशक विनय कुमार और प्रख्यात चित्रकार श्याम शर्मा समिति के सदस्य होंगे।

शिक्षा मंत्री पीके शाही और प्रधान सचिव अंजनी कुमार सिंह की उपस्थिति में हुई बैठक में जितवारपुर और सौराठ गांव को जोड़ने के लिए सड़क तथा राह में पड़ने वाली जीवछ नदी पर पुल बनाने पर भी चर्चा हुई।

प्रधान शिक्षा सचिव ने कहा कि इतनी बजटीय व्यवस्था कर दी जाएगी जिससे दोनों भूखंडों को चहारदिवारी से घेरा जा स डीपीआर बनते ही इसपर कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी। बैठक में सांस्कृतिक कार्य निदेशक विनय कुमार, आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति अमिताभ घोष आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मिथिला चित्रकला संस्थान में बनेगा अंतरराष्ट्रीय स्तर का संग्रहालय