DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉलेजों में बहाली पर लगी रोक नहीं हटेगी: शिक्षा मंत्री

बिहार विधान परिषद में सोमवार को भोजनावकाश के बाद शिक्षा विभाग के बजट पर वाद-विवाद के दौरान शिक्षा मंत्री पीके शाही ने कहा कि उच्चशिक्षा में काफी सुधार की जरूरत है। विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में आधे से ज्यादा पद रिक्त हैं। पहले गठित आयोग को खत्म कर सरकार ने बहाली का अधिकार विश्वविद्यालयों को यह सोचकर दिया था कि सुधार होगा।

लेकिन, स्थिति पहले से ज्यादा खराब हो गई। अगर बहाली पर लगी रोक को सरकार हटा देगी, तो गुणवत्ता प्रभावित होगी। इसलिए, कॉलेजों में बहाली पर लगी रोक नहीं हटाई जाएगी। शाही ने कहा कि यह दुखद है कि कुलपति पर विजिलेंस की जांच के बावजूद वह पद पर बने हुए हैं।

नियमों की विवश्ता के कारण सरकार इस मामले में कुछ नहीं कर सकती है। फिर भी उच्चशिक्षा में सुधार के लिए सरकार प्रयास कर रही है। विश्वविद्यालयों या कॉलेजों में जिन शिक्षकों विषयों के शिक्षकों की सख्त जरूरत है, उनकी सेवा रिटायरमेंट के बाद भी जारी रखने पर सरकार विचार कर रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार अब तक स्कूल में बच्चों की संख्या बढ़ाने पर जोर दे रही थी। इसमें सफलता मिलने के बाद अब शिक्षा में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इसके लिए ‘समझो-सीखे’ नाम से एक मिशन का गठन किया गया है। इसमें यूनिसेफ समेत तमाम राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं से सुझाव लिए जा रहे हैं।

विश्व बैंक से 700 से 1000 करोड़ रुपए की मांग की गई है। फिलहाल स्कूलों में सुधार के लिए 20 सूत्रों को लागू किया जा रहा है। शाही ने किशनगंज में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय खोले जाने पर कहा कि केंद्र सरकार इस मामले में भेदभाव कर रही है। 29 दिसंबर को ही 124 एकड़ जमीन उपलब्ध कराने के बाद भी अब तक स्वीकृति नहीं मिली है।

केंद्र इस मसले पर राजनीति कर रहा है। पश्चिम बंगाल में केन्द्रीय मंत्री प्रणब मुखर्जी का क्षेत्र और केरल में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति का घर होने की वजह से, दोनों स्थानों पर इसकी शाखा तेजी से खुल गई। लेकिन, बिहार की तरफ से पैरवी करने वाला कोई नहीं होने से मामला लटका हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कॉलेजों में बहाली पर लगी रोक नहीं हटेगी: शिक्षा मंत्री