DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एएमयू शाखा पर अभी तक केंद्र की स्वीकृति नहीं

बिहार के शिक्षा मंत्री प्रशांत कुमार शाही ने केंद्र पर बिहार के साथ लगातार भेदभाव की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) की शाखा खोले जाने को लेकर केंद्र सरकार की अभी तक कोई स्वीकृति नहीं मिली है।

बिहार विधान परिषद में वित्तीय वर्ष 2012-13 के शिक्षा विभाग के छत्तीस अरब सत्तर करोड़ छब्बीस लाख आठ हजार रुपये के आय-व्यय पर सरकार की ओर से जवाब देते हुए शाही ने केंद्र पर बिहार के साथ लगातार भेदभाव की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि एएमयू की शाखा खोले जाने को लेकर केंद्र सरकार की अभीतक कोई स्वीकृति नहीं मिली है।

उन्होंने कहा कि एएमयू की शाखा खोले जाने को लेकर वहां के कुलपति की मांग के अनुसार किशनगंज जिले में 224 एकड़ का एक ही भूखंड उपलब्ध करा दिए जाने पर गत वर्ष 29 दिसंबर को संसदीय कार्यमंत्री विजेंद्र यादव और शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव अंजनी कुमार सिंह की उपस्थिति में स्थानीय प्रशासन के साथ एएमयू की प्रशासनिक इकाई के सदस्यों ने समक्षौता पत्र पर हस्ताक्षर किया था।

शाही ने कहा कि समझौता पत्र पर हस्ताक्षर हुए इतने समय बीत जाने के बावजूद उनकी जानकारी के मुताबिक इस संबंध में केंद्र सरकार की कोई स्वीकृति अभीतक मिली ही नहीं है।
इसलिए वहां स्थापित किए जाने का कोई प्रश्न ही नहीं उठता, एएमयू की शाखा वहां खोले जाने को लेकर लोग केवल राजनीति कर रहे थे, हमारी सरकार राजनीति नहीं कर रही थी वह अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए उस योजना को वास्तव में लागू करने के ध्येय से काम कर रही थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एएमयू शाखा पर अभी तक केंद्र की स्वीकृति नहीं