DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेट-एतिहाद सौदे से कंपनी का खर्च कम होगा: गोयल

अबू धाबी की एयरलाइन एतिहाद के साथ जेट एयरवेज के 24 प्रतिशत हिस्सेदारी बिक्री के लिए सौदा कर चुके कंपनी के चेयरमैन नरेश गोयल ने आज कहा कि इस रणनीतिक गठजोड़ से जेट का मुनाफा बढ़ेगा और खर्चे कम होंगे।
   
इस प्रस्ताव पर कंपनी की जेट एयरवेज के शेयर धारकों की विशेष बैठक (ईजीएम) में गोयल ने कहा कि एतिहाद के निवेश से हमारे कर्ज में कमी करने और मजबूती के साथ वृद्धि करने में मदद मिलेगी।  एतिहाद को वरीयता के आधार पर शेयर आवंटित करने के प्रस्ताव को मंजूरी मिल गयी है, पर यह सौदा नियामकीय प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद ही प्रभावी होगा।
   
उल्लेखनीय है कि इस सौदे पर भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग, भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) समेत अनेक नियामकीय एजेंन्सियों की निगाह है।  
   
गोयल ने कहा कि व्यावसायिक समझौते से एतिहाद को अपनी उडान विस्तार में मदद मिलेगी, लागत घटेगी और इसका मुनाफा बढ़ेगा। बंबई शेयर बाजार में आज 12:12 बजे तक कंपनी के शेयर 2.65 फीसदी की गिरावट के साथ 568.75 रुपये पर चल रहा था। 
   
सौदे के अनुसार एतिहाद करीब 2,058 करोड़ रुपये में जेट एयरवेज की 24 फीसदी हिस्सेदारी हासिल करेगी। पिछले साल सितंबर में देश की प्रत्यक्ष विदेशी नीति में बदलाव के बाद किसी विदेशी एयरलाइन का भारतीय एयरलाइन में यह पहला प्रत्यक्ष निवेश होगा। 
   
दोनों कंपनियों ने कहा है कि इस सौदे के बाद भी जेट एयरवेज में बडी हिस्सेदारी और इसका प्रभावी नियंत्रण भारतीयों के हाथ में रहेगा। गोयल 51 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ इसके गैर कार्यकारी चेयरमैन रहेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जेट-एतिहाद सौदे से कंपनी का खर्च कम होगा: गोयल