DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सैन्य एवं असैन्य इकाइयों के बीच तनाव खतरनाक: मोदी

सेना के साथ हाल ही में हुए विवाद के लिए केन्द्र सरकार की आलोचना करते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि असैन्य एवं सैन्य इकाइयों के बीच तनाव का देश के आंतरिक सुरक्षा हालात पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ना तय है।

आंतरिक सुरक्षा पर मुख्यमंत्रियों के सम्मेलन में मोदी ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मौजूदा केन्द्र सरकार आम आदमी में हमारी रक्षा तैयारियों को लेकर विश्वास का संचार करने में विफल रही।

उन्होंने कहा कि देश की आंतरिक सुरक्षा को अलग थलग करके नहीं देखा जा सकता है, क्योंकि यह वाह्य सुरक्षा हालात से जुड़ी हुई और घुसपैठ रोकने, उग्रवाद को रोकने में सशस्त्र बल महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं जो देश के आंतरिक सुरक्षा से सीधे तौर पर जुड़ा है।

मोदी ने कहा कि इसी परिप्रेक्ष्य में संसाधन की बाधाओं, अधिकारियों और जवानों में नैतिक मनोबल की कमी और असैन्य एवं सैन्य इकाइयों के बीच तनाव के फलस्वरूप हमारी रक्षा क्षमताओं में किसी तरह की खामी से निश्चित तौर पर देश की आंतरिक सुरक्षा पर प्रतिकूल असर पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को अविश्वास एवं संदेह के इस माहौल को खत्म करने के लिए सक्रिय कदम उठाने चाहिए जो हाल ही में हुए विवादों के कारण पैदा हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सैन्य एवं असैन्य इकाइयों के बीच तनाव खतरनाक: मोदी