DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नयापन हमारी सफलता की कुंजी: महादेवन

संगीतकार शंकर महादेवन का कहना है कि एहसान और लॉय के साथ उनकी जुगलबंदी की सफलता की कुंजी संगीत में हमेशा कुछ नयापन लाने की कोशिश है। हिंदी सिनेमा में शंकर-एहसान-लॉय की तिकड़ी आज के दौर के सबसे उम्दा संगीतकारों में गिनी जाती है।
   
महादेवन ने कहा कि हमने कई बार ऐसा संगीत दिया, जिसके बाद फिल्म उद्योग में उसी तरह का चलन चल पड़ा। हम संगीत तैयार करते हैं तो हमेशा कुछ नयापन लाने की कोशिश करते हैं।
   
संगीतकारों की इस तिकड़ी ने मुकुल आनंद की फिल्म दस से शुरुआत की थी, हालांकि यह फिल्म रिलीज नहीं हो सकी। इसके बावजूद इस तिकड़ी ने अपनी पहचान बनाई।
   
महादेवन ने कहा कि फिल्म का मतलब मनोरंजन होता है और आइटम नंबर फिल्म को बढ़ाते हैं। वे फिल्म में मसाला जोड़ते हैं। वे फिल्म का महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं और लोगों को खुशी देते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नयापन हमारी सफलता की कुंजी: महादेवन