DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बड़े स्कोर का बचाव करना मुश्किल था: धौनी

भारतीय टीम ने एशिया कप के अपने पहले मैच में भले ही श्रीलंका पर 50 रन की जीत दर्ज की लेकिन कप्तान महेंद्र सिंह धौनी का मानना है कि शेरे बांग्ला स्टेडियम की तेज आउटफील्ड हो देखते हुए उसमें बड़े स्कोर का बचाव करना मुश्किल था।

धौनी ने मैच के बाद कहा कि इस मैदान पर बाद में गेंदबाजी करना मुश्किल था। आउटफील्ड वास्तव में बहुत तेज थी और गेंद बल्ले पर अच्छी तरह से आ रही थी। ऐसे में बाद में गेंदबाजी करते हुए गेंदबाजों का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना जरूरी था। उम्मीद है कि टूर्नामेंट आगे बढ़ने के साथ यह थोड़ी धीमी हो जाएगी।

धौनी ने स्वीकार किया कि जब महेला जयवर्धने खेल रहे थे तब वह थोड़ा चिंतित थे। उन्होंने कहा कि महेला वास्तव में बहुत अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था। विकेट में थोड़ा बदलाव आ गया था और गेंद अच्छी तरह से बल्ले पर आ रही थी। प्रवीण का दिन अच्छा नहीं रहा जबकि जडेजा ने भी रन लुटाए। तब मुझे दो गेंदबाजों की कमी महसूस हो रही थी और मुझे पार्टटाइम गेंदबाज लाने पड़े। प्रवीण को श्रेय जाता है कि उसने दूसरे स्पैल में अच्छी वापसी की तथा इरफान और विनय ने उसका बढ़िया साथ दिया।

भारतीय कप्तान ने विराट कोहली और गौतम गंभीर के बीच दूसरे विकेट के लिए 205 रन की साझेदारी की भी तारीफ की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बड़े स्कोर का बचाव करना मुश्किल था: धौनी