DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक पैसे प्रति सेकंड का टैरिफ प्लान अनिवार्य: ट्राई

भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने शुक्रवार को सभी मोबाइल फोन सेवा प्रदाता कम्पनियों से कहा है कि उन्हें उपभोक्ताओं के लिए अन्य प्रस्तावों के साथ ही एक पैसा प्रति सेकंड का टैरिफ प्लान भी हर हाल में रखना होगा।

ट्राई ने टैरिफ संशोधन सम्बंधी एक आदेश में कहा है कि फोन सेवा प्रदाता कम्पनियों के लिए यह अनिवार्य है कि उन्हें प्रत्येक सेवा क्षेत्र में पोस्टपेड और प्रीपेड, दोनों तरह के उपभोक्ताओं के लिए कम से कम एक टैरिफ प्लान एक सेकंड की समान पल्स दर पर रखनी होगी।

ट्राई ने एक बयान में कहा है, ''फोन सेवा प्रदाताओं को इस बात की छूट होगी कि वे 25 टैरिफ प्लान्स में से किसी भी पल्स दर के साथ वैकल्पिक टैरिफ प्लान की पेशकश कर सकते हैं।''

सेवा प्रदाताओं द्वारा प्रमुख दर सेवाओं के लिए ली जाने वाली दरें दोतरफा सम्पर्क के लिए लागू होने वाली सामान्य टैरिफ की तुलना में अधिक हैं, क्योंकि वसूली जाने वाली दरों में विषय वस्तु की कीमत भी शामिल है।

इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए कि प्रतिस्पर्धा और मतदान में हिस्सा लेने के लिए की जाने वाली काल्स और एसएमएस में मुश्किल से ही कोई सामग्री होती है, ट्राई के दूरसंचार टैरिफ (51वें संशोधन) आदेश, 2०12 में इस बात की भी व्यवस्था की गई है कि इस तरह के काल्स और एसएमएस के टैरिफ स्थानीय काल्स या एसएमएस के लिए लागू दरों के चारगुना से अधिक नहीं होने चाहिए।

ट्राई ने 25 टैरिफ प्लांस की मौजूदा सीमा को भी बरकरार रखा है, जिसकी पेशकश फोन सेवा प्रदाता कम्पनियां पोस्टपेड और प्रीपेड सेवाओं के लिए कर सकती हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एक पैसे प्रति सेकंड का टैरिफ प्लान अनिवार्य: ट्राई