DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बापू के स्मृति चिन्हों की लंदन में होगी नीलामी

वर्ष 1948 में महात्मा गांधी की हत्या के बाद उनके खून से भीगी चुटकी भर रेत, उनके हस्तलिखित पोस्ट कार्ड्स और एक चश्मे की लंदन में नीलामी की जाएगी। अब तक बापू के ये स्मृति चिन्ह केरल के एक सेवानिवृत्त शिक्षक तथा गांधीवादी एंटनी चित्ताट्टुकारा ने अपने पास संजो कर रखे थे।

उनका कहना है कि बापू के इन अमूल्य स्मृति चिन्हों को लंदन स्थित लुडलो रेसकोर्स के मुलोक्स में नीलामी के लिए रखा जाएगा। चित्ताटटुकारा ने कहा कि बापू की धरोहरों की प्रामाणिकता एवं इनके चित्ताटटुकारा के अधिकार में आने की परिस्थितियों के बारे में स्पष्टीकरण जैसी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद नीलामी की तारीख घोषित की जाएगी।

उन्होंने कहा कि उनके संग्रह में बापू के आठ पत्र, कुछ हस्तलिखित पोस्टकार्ड, कुछ टाइप किए हुए पत्र, चश्मा, बापू की मातृभाषा गुजराती में लिखी प्रार्थना की पुस्तिका, प्रार्थना सभाओं में दिए गए उनके भाषणों का एक ग्रामोफोन रिकार्ड हैं। यह वह चश्मा है जिसे बापू लंदन में कानून की पढ़ाई के दौरान पहनते थे। इसके साथ ही, लंदन के नेत्र रोग विशेषज्ञ द्वारा दिया गया फलालैन का एक टुकड़ा भी उनके संग्रह में है।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बापू के स्मृति चिन्हों की लंदन में होगी नीलामी