बारिश में खिल उठता है मांडू - बारिश में खिल उठता है मांडू DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारिश में खिल उठता है मांडू

मध्य प्रदेश में बसा मांडू जितना खूबसूरत है, उतना ही शानदार इसका ऐतिहासिक महत्व भी है। अगर आप यहां घूमने जा रहे हैं तो कुछ बातों का ध्यान जरूर रखिएगा।

समृद्ध इतिहास
यहां मिले छठी शताब्दी के अभिलेख बताते हैं कि मांडू असल में ईसा पूर्व पांचवी सदी का शहर है। वैसे इसे ख्याति मिली 11वीं शताब्दी में जब परमार राजपूतों ने यहां पर शासन किया। राजा भोज की यह नगरी रहा।

देखें क्या

ऐतिहासिक दरवाजे- पुराना मांडू 45 किलोमीटर लंबी दीवार से घिरा हुआ एक किलेनुमा शहर है जिसमें 12 दरवाजों से होकर जाया जा सकता है। ये दरवाजे-रामपोल, जहांगीर गेट, तारापुर गेट आदि देखने लायक हैं।

जहाज महल- यह मांडू की सबसे मशहूर जगह है। दो कृत्रिम झीलों-मुंज तलाब और कपूर तलाब के बीचो-बीच स्थित होने के कारण ही यह महल किसी पानी के जहाज सरीखा लगता है। सुलतान गयासुद्दीन खिल्जी ने इसे अपने हरम के तौर पर बनवाया था जिसमें उसकी ढेरों रानियां रहती थीं। इसके खुले परकोटों से आसपास का नजारा बहुत ही खूबसूरत लगता है।

होशंग शाह का मकबरा- यह भारत की पहली ऐसी इमारत है जिसका निर्माण संगमरमर से हुआ। अफगान वास्तुकला के नमूने यहां देखे जा सकते हैं। आगरा के ताजमहल की प्रेरणा इसी मकबरे से ही मिली।

जामी मस्जिद- इस विशाल मस्जिद के गुंबद, खंबे और दीवारें उस जमाने की समृद्घ वास्तुकला को दर्शाती हैं।

रेवा कुंड- इस कुंड का निर्माण बाज बहादुर द्वारा रूपमती के महल में पानी पहुंचाने की खातिर करवाया गया था। इस कुंड को पवित्र माना जाता है।

इधर-उधर भी घूमें
मांडू से बाहर निकलें तो 35 किलोमीटर दूर धार का किला है जिसे मोहम्मद तुगलक ने सन् 1344 में बनवाया था। यहां पर शीश महल, खरबूजा महल आदि देखने लायक हैं।

कुछ खाएं, कुछ खरीदें
मध्य प्रदेश में हों तो वहां के स्थानीय पकवान जरूर ट्राई करें और खरीदना चाहें तो कपड़े, साड़ियां, आभूषण, सजावटी सामान यादगार के तौर पर लिया जा सकता है।

पहुंचे कैसे
मांडू जाने के लिए रेल से रतलाम या इंदौर उतरा जा सकता है। दिल्ली-मुंबई ट्रैक पर स्थित रतलाम यहां से करीब सवा सौ किलोमीटर दूर है। हवाई जहाज से जाना चाहें तो इंदौर ही नजदीकी एयरपोर्ट है। वैसे सड़क से मांडू मध्य प्रदेश के प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है।

ठहरें कहां
हर प्रसिद्व पर्यटन स्थल की तरह मांडू में भी हर जेब और जरुरत के मुताबिक छोटे-बड़े होटल मौजूद हैं। मध्य प्रदेश पर्यटन विकास निगम के भी यहां पर दो होटल मालवा रिजोर्ट और मालवा रिट्रीट हैं जिनमें 13 सौ से लेकर 26 सौ रुपए के बीच कमरे उपलब्ध हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बारिश में खिल उठता है मांडू