DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुडनकुलम निवासियों को धोखा दे रही हैं जयललिता: करुणा

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) अध्यक्ष एम. करुणानिधि ने मंगलवार को कहा कि तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने कुडनकुलम में स्थानीय बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए 500 करोड़ रुपये की घोषणा कर वहां के लोगों के साथ धोखा किया है।

उन्होंने कहा कि कुडनकुलम परमाणु बिजली परियोजना (केएनपीपी) के पिछले छह महीने से बंद पड़े होने के लिए जयललिता जिम्मेदार हैं।

करुणानिधि ने एक वक्तव्य जारी कर कहा, ''सोमवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में जयललिता ने कुडनकुलम परियोजना जल्दी से जल्दी शुरू करने का निर्णय लिया था। लेकिन पिछले छह महीने से बंद पड़ी इस परियोजना के लिए जिम्मेदार कौन है?''

विपक्ष के नेता करुणानिधि ने कहा कि यह परियोजना इसलिए रुकी कि जयललिता ने प्रदर्शनकारियों को बातचीत के लिए बुलाया और उनका अनुरोध स्वीकार किया। उन्होंने 22 सितम्बर, 2011 को मंत्रिमंडल की बैठक में एक प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से परियोजना से सम्बंधित कार्य रोकने के लिए कहा था।

करुणानिधि ने केएनपीपी में काम न होने की स्थिति में पिछले छह महीने के दौरान तनख्वाहें देने पर केंद्र सरकार को करीब 900 करोड़ रुपये के नुकसान के लिए भी जयललिता को जिम्मेदार ठहराया।

उन्होंने कहा कि अब जयललिता की अचानक से कुडनकुलम में बुनियादी ढांचे के विकास के लिए 500 करोड़ रुपये के आवंटन की घोषणा सिर्फ एक धोखेबाजीपूर्ण नाटक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुडनकुलम निवासियों को धोखा दे रही हैं जयललिता: करुणा