DA Image
3 दिसंबर, 2020|12:47|IST

अगली स्टोरी

पंजाब के लिए अब 'अपनी जीत हो, उनकी हार हो'

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम बहुत देर से जागी है लेकिन अब भी उसकी आईपीएल-6 के प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदें हैं। लेकिन इसके लिए उसे न केवल शनिवार को यहां अपने अंतिम लीग मैच में चोटी की टीम मुंबई इंडियंस को बड़े अंतर से हराना होगा बल्कि प्लेऑफ के अंतिम स्थान के लिए होड में बची और टीमों की हार की भी कामना करनी होगी।
 
मुंबई, चेन्नई और राजस्थान की टीमें पहले ही प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर चुकी हैं और शेष एक स्थान के लिए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर, सनराइजर्स हैदराबाद और पंजाब के बीच मुकाबला है। बेंगलोर और हैदराबाद के एक बराबर 16 अंक हैं जबकि पंजाब के 14 अंक हैं। बेंगलोर और पंजाब का अब एक मैच बाकी है जबकि हैदराबाद को अभी दो मैच खेलने हैं।
 
बेंगलोर या हैदराबाद की जीत की सूरत में पंजाब के रास्ते बंद हो जाएंगे। पंजाब इसी सूरत में प्लेऑफ में पहुंच सकता है कि बेंगलोर और हैदराबाद अपने बाकी मैच हार जाए और पंजाब मुंबई को बड़े अंतर से हरा दे। हालांकि इसकी संभावना कम ही दिखती है। सनराइजर्स को शुक्रवार को हैदराबाद में रॉयल्स के खिलाफ खेलना है। इस मैच में हैदराबाद की जीत पंजाब के प्लेऑफ में पहुंचने का रास्ता बंद कर देगी।
 
पंजाब ने पिछले दो मैचों में जिस तरह का प्रदर्शन किया उससे मुंबई के खिलाफ उसकी चुनौती को कम नहीं आंका जा सकता। कप्तान एडम गिलक्रिस्ट अपने पुराने रंग में लौट आए हैं और ऐसे में किसी भी गेंदबाजी क्रम को उन्हें रोकना आसान नहीं होगा। गिलक्रिस्ट के अलावा शॉन मार्श और डेविड मिलर भी पूरी तरह लय में आ चुके हैं।

धर्मशाला में धौलाधार पहाड़ियों के बीच में स्थित दुनिया के सबसे ऊंचे क्रिकेट स्टेडियम में पंजाब ने गुरुवार को दिल्ली डेयरडेविल्स को सात रन से शिकस्त दी थी। गिलक्रिस्ट, मार्श और मिलर के धमाल से पंजाब ने चार विकेट पर 171 रन का मजबूत स्कोर बनाया था और फिर दिल्ली को सात विकेट पर 164 रन पर रोक दिया था।
 
संदीप शर्मा ने इस मैच में घातक गेंदबाजी करते हुए 23 रन पर तीन विकेट चटकाए थे और पीयूष चावला ने भी दो विकेट अपने नाम किए थे। प्रवीण कुमार ने किफायती गेंदबाजी करते हुए अपने कोटे के ओवरों में केवल 19 रन दिए थे और एक विकेट भी झटका था।
 
जहां तक मुंबई का सवाल है तो उसकी कोशिश अपना अंतिम लीग मैच को जीतकर अंकतालिका में अपना शीर्ष स्थान बरकरार रखना होगा। कई दिग्गज सितारों से सजी यह टीम शानदार प्रदर्शन कर रही है। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर चोट के कारण राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पिछले मैच में नहीं खेल पाए थे।
 
ओपनिंग के सचिन के साझीदार डेवोन स्मिथ को भी पिछले मैच में नहीं उतारा गया था। सचिन की जगह उतरे आदित्य तारे ने राजस्थान के खिलाफ शानदार पारी खेली थी। अब देखना होगा कि सचिन इस मैच मे खेलने उतरते हैं या फिर आदित्य तारे को ही बरकरार रखा जाता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:पंजाब के लिए अब 'अपनी जीत हो, उनकी हार हो'