DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पंजाब को चाहिए पहली जीत,पुणे की नजरें हैट्रिक पर

लगातार दो हार से निराश किंग्स इलेवन पंजाब इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) टवेंटी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के पांचवें सत्र के लीग मुकाबले में पुणे वॉरियर्स के खिलाफ गुरुवार को यहां अपने घरेलू मैदान पर जीत से शुरूआत करने की कोशिश करेगी।
    
किंग्स इलेवन को अपने पिछले मैच में पुणे वॉरियर्स के खिलाफ उसी के मैदान पर हार का सामना करना पड़ा था। अगर आईपीएल के पहले सत्र को छोड़ दें तो इस साल और पिछले सत्रों में भी पंजाब की टीम शुरूआती लय हासिल करने में नाकाम रही है जिससे उसे इस टूर्नामेंट के अगले दौर में जाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी है। पहले सत्र में पंजाब की टीम युवराज सिंह के नेतृत्व में सेमीफाइनल तक पहुंची थी।
    
बॉलीवुड अभिनेत्री प्रीति जिंटा की सहमालिकाना इस फ्रेंचाइजी को इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड की कमी खलेगी जो चोटिल होने के कारण मैदान से बाहर हैं। आईपीएल पांच के पहले मुकाबले में किंग्स इलेवन ने राजस्थान रॉयल्स के तेजतर्रार बल्लेबाज अजिंक्या रहाणे के शानदार 98 रनों के आगे घुटने टेक दिए थे और 192 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 160 रन ही बना सकी थी।
    
राजस्थान के खिलाफ मुकाबले में कप्तान एडम गिलक्रिस्ट, पिछले सत्र के हीरो पॉल वलथाटी, ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज शॉन मार्श, अभिषेक नायर और डेविड हस्सी जैसे बल्लेबाज असफल रहे थे।

पुणे वॉरियर्स के खिलाफ पिछले मैच में किंग्स इलेवन ने फिर से पहले गेंदबाजी की और यह मैच 22 रन से गंवा दिया। इस मैच में किंग्स इलेवन के बल्लेबाज 144 रन तक ही स्कोर खींच पाये और कोई भी बल्लेबाज बड़ा स्कोर हासिल करने में नाकाम रहा।
    
गेंदबाजी विभाग में मध्यम गति के गेंदबाज प्रवीण कुमार अब तक प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं। लेग स्पिनर पीयूष चावला और विपुल शर्मा भी असरहीन रहे हैं। हालांकि इस साल टीम से जुड़े हरमीत सिंह चतुराई से गेंदबाजी कर रहे हैं और वॉरियर्स को इस गेंदबाज को ध्यान से खेलने की जरूरत है। सिंह ने पिछले मैच में तीन विकेट लिए थे।
    
वहीं दूसरी ओर सौरव गांगुली की कप्तानी वाली पुणे वॉरियर्स की टीम मुंबई इंडियंस के खिलाफ 129 रन के मामूली से लक्ष्य का बचाव करके उत्साह से लबरेज है। हालांकि उस मुकाबले में मैन ऑफ द मैच स्टीव स्मिथ और रोबिन उथप्पा के अलावा कोई अन्य बल्लेबाज लसिथ मलिंगा और प्रज्ञान ओझा के सामने सहज नहीं दिखा।
    
टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचाने की जिम्मेदारी शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों और कप्तान गांगुली पर होंगी।  गेंदबाजी विभाग में तेज गेंदबाज अशोक डिंडा अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज वायने पर्नेल और आशीष नेहरा भी किंग्स इलेवन के बल्लेबाजों के लिए मुसीबत पैदा कर सकते हैं क्योंकि मोहाली का विकेट तेज गेंदबाजों के लिए मददगार रहता है।

टीमें इस प्रकार हैं:
पुणे वॉरियर्स: सौरव गांगुली (कप्तान), अशोक डिंडा, ए त्रिवेदी, राइफी गोमेज, हरमीत सिंह, धीरज जाधव, कामरान खान, मुरली कार्तिक, हर्षद खादीवाले, महेश रावत, भुवनेश कुमार, अनुस्तुप मजूमदार, मिथुन मन्हास, राहुल शर्मा, अली मुर्तजा, मोहनीश मिश्रा, आशीष नेहरा, मनीष पांडेय, रोबिन उथप्पा, वायने पर्नेल, जेसी राइडर, मर्लन सैमुल्स, सचिन राणा, अल्फोंसो थॉमस, तमीम इकबाल, श्रीकांत वाघ, लुक व्हाइट और कैलम फर्गुसन।
     
किंग्स इलेवन पंजाब: एडम गिलक्रिस्ट (कप्तान), बिपुल शर्मा, पारस डोगरा, हरमीत सिंह, सिद्धार्थ चिटणिस, लव अब्लीश, पीयूष चावला, अमित यादव, परविंदर अवाना, स्टुअर्ट ब्रॉड, अजहर महमूद, भार्गव भट, रेयास हैरिस, विक्रमजीत मलिक, पॉल वलथाटी, सनी सिंह, शलभ श्रीवास्तव, राजगोपाल सतीश, नितिन सैनी, नाथन रिमिंगटन, अभिषेक नायर, डेविड मिलर, मनदीप सिंह, जेम्स फाल्कनर, प्रवीण कुमार, शॉन मार्श, दिमित्री मास्करेंहास और रमेश पोवार।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पंजाब को चाहिए पहली जीत,पुणे की नजरें हैट्रिक पर