DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इरफान को सीबीआई कोर्ट ले जाने का आदेश

भोपाल की आरटीआई कार्यकर्ता शहला मसूद की हत्या के मामले में कानपुर से एसटीएफ की ओर से गिरफ्तार किए गए इरफान को पूछताछ के लिये अपने साथ ले जाने के मकसद से सीबीआई ने सोमवार को कानपुर की जिला जेल अधीक्षक को सीबीआई इंदौर कोर्ट का वारंट सौंप कर उसे भोपाल ले जाने की मांग की।

इस पर जेल अधिकारियों ने मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट से इस बाबत इजाजत मांगी थी जो अदालत ने दे दी है अब सात या आठ मार्च को इरफान वहां भेजा जायेंगा। कानपुर जिला जेल के जेल अधीक्षक आरएन पांडे ने बताया कि आज दोपहर सीबीआई टीम ने जेल प्रशासन को इंदौर की सीबीआई कोर्ट का वारंट सौंपा। जिसमें कहा गया कि इरफान भोपाल में शहला मसूद कांड का भी आरोपी है और उसे पूछताछ के लिये ले जाना है। इस पर जिला प्रशासन ने सीबीआई टीम को इरफान को सीबीआई को सौंपने से पहले मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट-सात से इजाजत मांगी थी जो आज शाम अदालत ने दे दी । अब चूंकि सीबाआई कोर्ट में इरफान को नौ मार्च को पेश होना है इसलिए सुरक्षा मिलने के बाद सात या आठ मार्च को इरफान को कानपुर से वहां भेजा जायेंगा।

उन्होंने कहा चूंकि इरफान पर बेकनगंज पुलिस ने आईपीसी की धारा 307 और शस्त्र अधिनियम की धारा 25 के तहत मुकदमा दर्ज किया है और वह मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के आदेश के बाद जिला जेल में न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। अदालत की ओर से इजाजत देने के बाद अब जब कानपुर पुलिस हमें सुरक्षा उपलब्ध करा देती है तो हम इरफान के सीबीआई कोर्ट भेज देंगे । यह सात या आठ मार्च को ही संभव हो पायेगा क्योंकि कल छह तारीख को यहां मतगणना है। 
  
गौरतलब है कि 27 फरवरी की देर रात शहला मसूद हत्याकांड में शामिल इरफान को बेकनगंज के तलाक महल इलाके से यूपी एसटीएफ की टीम ने गिरफ्तार किया था और बेकनगंज थाने में उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी गयी थी। गिरफ्तारी के समय उसके पास से एसटीएफ को एक देशी पिस्तौल और कारतूस भी मिले थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शहला मामला: इरफान को सीबीआई कोर्ट ले जाने का आदेश