DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मध्य प्रदेश में बनेगी कबड्डी अकैडमी

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में कबड्डी अकैडमी श्रीघ ही स्थापित होगी। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी पूर्ण संकल्प के साथ खेलें। खिलाड़ियों और खेल सुविधाओं के लिए धन की कमी नहीं होगी।
 
श्री चौहान यहां टी.टी. नगर स्टेडियम में मुख्यमंत्री राज्य खेल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ओलम्पिक 2020 में मध्यप्रदेश के खिलाड़ी भी पदक जीतें इसके लिए अभी से तैयारी शुरू की जा रही है। अप्रैल माह में मुख्यमंत्री युवा ओलम्पिक शुरू किया जाएगा जिसमें प्रतिभावान खिलाड़ियों को चिन्हित कर आधुनिक पद्धति से प्रशिक्षित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को राज्य सरकार हर संभव सुविधा और सहायता उपलब्ध करवाएगी। भूतपूर्व खिलाड़ियों की सहायता के लिए खिलाड़ी कल्याण कोष गठित किया गया है।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि खेलों से देश का मान सम्मान बढ़ता है। भारत को सरताज राष्ट्र बनाना है इसके लिए सभी को मिलकर प्रयास करना होगा। उन्होंने कहा कि खेलों में राजनीति नहीं होनी चाहिए। बल्कि राजनीति में खेल भावना लाने के प्रयास किए जाने चाहिए।
 
इस अवसर पर ओलम्पिक रजत पदक विजेता सुशील कुमार ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार जिस प्रकार खिलाड़ियों को सुविधाएं और सहयोग दे रही है उससे यह साबित हुआ है कि राज्य में खेलों का उज्जवल भविष्य है।
 
खेल एवं युवा शैलेन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि मुख्यमंत्री राज्य खेल आयोजन में राज्य के के 34 खेल संघ ओलंपिक संघ और खेल एवं युवा कल्याण विभाग एक साथ आए हैं। उन्होंने बताया कि आगामी समय में आयोजन विकासखण्ड स्तर पर भी किया जाएगा।
 
चौहान ने मध्यप्रदेश ओलम्पिक संघ के सचिव एस.आर. देव को सम्मानित किया। उन्होंने राज्य के खेल प्रशिक्षक के रूप में ऑफर लेटर जल खेलों के लिए गिरधारी लाल यादव, हॉकी के लिए अशोक कुमार, निशानेबाजी के लिए मनशेरसिंह, क्रिकेट के लिए मदनलाल और कुश्ती के लिए सुशील कुमार को प्रदाय किए। राज्य खेल आयोजन में कुश्ती और एथलेटिक्स के पदक विजेताओं को भी पुरस्कृत किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मध्य प्रदेश में बनेगी कबड्डी अकैडमी