DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के सचिव के खिलाफ वारंट

इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनउ पीठ ने कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम के रखरखाव के मामले में उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ (यूपीसीए) के सचिव ज्योति बाजपेयी के खिलाफ 20 हजार रुपये का जमानती वारंट जारी किया है।

अदालत ने 15 जनवरी को न्यायालय में बाजपेयी की उपस्थिति सुनिश्चित कराने के निर्देश कानपुर के मुख्य महानगरीय मजिस्ट्रेट को दिए हैं। साथ ही अदालत ने नोटिस देने के बावजूद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की तरफ से किसी के अदालत में पेश नहीं होने पर संस्था के सचिव को भी 15 जनवरी को तलब किया है और इस आदेश की तामील मुम्बई के मुख्य महानगरीय मजिस्ट्रेट के जरिये कराये जाने को कहा है। न्यायमूर्ति उमानाथ सिंह तथा न्यायमूर्ति वीरेन्द्र कुमार दीक्षित की खंडपीठ ने यहां यह आदेश एक जनहित याचिका पर दिया।

याचिका में कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों के खेलने लायक बनाए जाने तथा इसके लिए जारी करोड़ों रुपये की रकम का उपयोग किये जाने का अनुरोध किया गया था। याचिकाकर्ता का आरोप था कि स्टेडियम के रखरखाव आदि के लिए मिली करोड़ों रुपये की धनराशि के बावजूद स्टेडियम को उन्नत नहीं किया गया। इसीलिए हाल में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड ने कंगारू टीम के ग्रीनपार्क स्टेडियम में मैच खेलने से मना कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के सचिव के खिलाफ वारंट