DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिंदी फिल्मों में मासूमियत की कमी : जूही

अभिनेत्री जूही चावला का कहना है कि वर्तमान फिल्मों में आकर्षण और मासूमियत की कमी ने उन्हें चिंतित कर दिया था लेकिन हालही में आई अभिषेक बच्चन अभिनीत ‘बोल बच्चान’ ने उनके टूटते विश्वास को बचा लिया।

जूही ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि कम्पाल स्थित सिनेमाघर में अभी-अभी ‘बोल बच्चान’ देखी। बहुत मजाकिया है। फिल्म पूरी तरह से हंसाने वाली है। अजय देवगन और अभिषेक हंसाने वाले किरदारो में हैं। फिल्म में हर कोई मजेदार है।

44 वर्षीय अभिनेत्री ने कहा कि मुझे फिल्म में जो सबसे अच्छी चीज लगी...वह उसका साफ-सुथरापन है। लड़कियों की स्कर्ट बड़ी हैं...कोई भी फालतु का दृश्य नहीं है...आप मुझे पुराने जमाने की कहेंगे लेकिन मैंने हिन्दी फिल्मों को लेकर चिंता शुरू कर दी थी।

‘कयामत से कयामत तक’, ‘डर’ और ‘हम हैं राही प्यार के’ जूही की लोकप्रिय फिल्में हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हिंदी फिल्मों में मासूमियत की कमी : जूही