किंग्स इलेवन का चेन्नई सुपर किंग्स से कड़ा मुकाबला - किंग्स इलेवन का चेन्नई सुपर किंग्स से कड़ा मुकाबला DA Image
13 दिसंबर, 2019|10:18|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किंग्स इलेवन का चेन्नई सुपर किंग्स से कड़ा मुकाबला

आईपीएल में फिलहाल कमजोर प्रदर्शन के कारण आठवें स्थान पर पहुंच चुकी किंग्स इलेवन पंजाब के लिए लीग की दो बार की विजेता टीम चेन्नई सुपर किंग्स को जब उसी के घरेलू मैदान में सामना होगा तो यह मुकाबला उसके लिए किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं होगा।
 
आईपीएल पांच में धीमी शुरूआत करने के बावजूद खुद को चोटी की तीन टीमों में शामिल कर चुकी चेन्नई एक बार फिर अपने पूराने फॉर्म में नजर आ रही है। कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के नेतृत्व में टीम काफी मजबूत और संतुलित दिखाई दे रही है। चेन्नई ने अपने पिछले मुकाबलों में अच्छा प्रदर्शन किया है और इस वक्त अपने आठ मैचों में से चार जीतकर और एक रद्द होने के कारण कुल नौ अंकों के साथ तीसरे स्थान पर पहुंच गई है।
 
चेन्नई लगातार आईपीएल में दो संस्करणों को जीतने के बाद से लीग की सबसे मजबूत टीमों में से है। हालांकि आईपीएल पांच में उसका प्रदर्शन उतना मजबूत दिखाई नहीं दिया जितना पहले के संस्करणों में था। लेकिन टीम ने खराब शुरूआत के बावजूद अपने पूराने फॉर्म वापस पा लिया है।
 
चेन्नई का रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के साथ हुआ पिछला मुकाबला बारिश के कारण रद्द हो गया था लेकिन इससे पहले राजस्थान के साथ हुए मुकाबले में उसका प्रदर्शन काफी मजबूत था। इस मैच को टीम ने सात विकेट से अपने नाम कर लिया था। इस मैच में टीम के प्रदर्शन से साफ था कि वह किसी भी स्कोर का पीछा कर सकती है तथा उसके गेंदबाज विपक्षी टीम को कम स्कोर पर थामने में पूरी तरह सक्षम है।
 
चेन्नई की सबसे बड़ी ताकत उसकी संतुलित बल्लेबाजी और गेंदबाजी क्रम है। टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के साथ साथ एस बद्रीनाथ, विदेशी खिलाड़ी फाफ डू प्लेसिस, सुरेश रैना टीम में मजबूत बल्लेबाजों के रूप में शामिल हैं।

इसके अलावा टीम में श्रीलंकाई खिलाड़ी नुवान कुलशेखर, डग बोलिंजर, आर अश्विन, रविंद्र जडेजा, ड्वेन ब्रावो और एस जकाती के रूप में घातक गेंदबाज हैं जो विपक्षी टीम के स्कोर की गति और बल्लेबाजों दोनों को थामने में माहिर हैं। साथ ही टीम ने अपने क्षेत्ररक्षण पर भी काफी काम किया है और ऐसे में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए इनके सामने टिकना मुश्किल होगा।
 
दूसरी ओर कप्तान और कोच दोनों की भूमिका में टीम का मार्गदर्शन कर रहे एडम गिलक्रिस्ट इस वक्त चोट के कारण फिलहाल टीम में मौजूद नहीं है और उनकी अनुपस्थिति में एम ए चिदबंरम स्टेडियम की पिच पर किंग्स के बल्लेबाजों को कड़ी परीक्षा से गुजरना होगा।
 
टीम फिलहाल कमजोर स्थिति में दिखाई दे रही है और उसने अपना पिछला मैच भी गंवा दिया है। किंग्स इस समय आठ मैचों में से तीन में जीत दर्ज कर लेकिन पांच में शिकस्त झेलने के बाद छह अंकों के साथ आठवें स्थान पर पहुंच गई है। ऐसे में जहां टीम पर मनोवैज्ञानिक तौर पर दबाव अधिक होगा तो दूसरी ओर चेन्नई जैसी मजबूत टीम के सामने अच्छा प्रदर्शन करने की चुनौती भी।
 
किंग्स इलेवन के बल्लेबाज डेविड मिलर, पॉल वलथाटी, डेविड हस्सी, शॉन मार्श, मंदीप सिंह और नितीन सैनी से हालांकि बड़े स्कोर की उम्मीद की जा सकती है जो चेन्नई के गेंदबाजो की मुश्किलें बड़ा सकते हैं। लेकिन पंजाब के गेंदबाजों प्रवीण कुमार, परविंदर अवाना, पीयूष चावला, अजहर महमूद के आगे माही के बल्लेबाजों की रन गति को रोकना एक बड़ी चुनौती होगी। हालांकि इन सबके बावजूद चेन्नई में दोनों टीमों के बीच रोमांचक मुकाबले की उम्मीद की जा सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:किंग्स इलेवन का चेन्नई सुपर किंग्स से कड़ा मुकाबला