DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विनिर्माण क्षेत्र को पर्यावरण अनुकूल बनाने की जरूरत

देश में विनिर्माण क्षेत्र को पर्यावरण अनुकूल बनाए जाने तथा घरेलू विनिर्माण उद्योग में प्रतिस्पर्धा बढ़ाए जाने की जरूरत है ताकि सतत एवं समावेशी वृद्धि के नियोजित लक्ष्य को हासिल किया जा सके।

वाणिज्यिक संगठन, एसोसिएटेड चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री एसौचेम के अध्यक्ष राजकुमार धूत ने एसौचेम विनिर्माण सर्वे (2012) रिपोर्ट जारी करते हुए कहा है कि औद्योगिक क्षेत्र में मंदी के कारण देश के विनिर्माण क्षेत्र को घरेलू एवं निर्यात क्षेत्र में ऊंची लागतों के कारण घटती मांग का सामना करना पड़ा, लेकिन अब इस क्षेत्र में थोड़ा सुधार दिख रहा है।

एसौचेम के शोधन ब्यूरों ने जुलाई-सितंबर के बीच 156 कंपनियों का सर्वेक्षण करके भारतीय अर्थव्यवस्था एवं भविष्य के परिदृश्य पर उनके विचार जाने। इन कंपनियों का कहना है कि पिछले छह महीनों में घरेलू स्तर पर मिलने वाले आर्डर में काफी बढ़ोत्तरी हुई है और घरेलू स्तर पर बिक्री तथा उत्पादन बढ़ा है।

शोध सर्वे में शामिल 50 कंपनियों का कहना है कि अगले छह महीनों में मांग में और बढ़ोत्तरी होगी जिसे पूरा करने के लिए उत्पादन भी ज्यादा होगा।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विनिर्माण क्षेत्र को पर्यावरण अनुकूल बनाने की जरूरत