DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छेत्री ने टीम को आत्ममुग्धता से बचने की ताकीद की

भारतीय फुटबाल कप्तान सुनील छेत्री ने अपने साथी खिलाड़ियों को चेताया कि आठ मार्च से शुरू हो रहे एएफसी चैलेंज कप में खिताब बरकरार रखने के लिए उन्हें आत्ममुग्धता से बचना होगा।

हाल ही में चोट से उबरे छेत्री ने कहा कि टीम पिछले रिकार्ड के दम पर नहीं रह सकती और उसे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। उन्होंने कहा कि पिछली उपलब्धियों के दम पर नहीं बैठा जा सकता। हम ग्रुप आफ डैथ में है और किसी टीम को हलके में नहीं ले सकते। हर मैच नया है और हमें मैच दर मैच रणनीति बनानी होगी। ताजिकिस्तान के खिलाफ हमें एकजुट होकर खेलना होगा।

कोच सावियो मेडिरा की इस टीम में कई धुरंधर नहीं है लेकिन छेत्री ने कहा कि युवा खिलाड़ी भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दुबई में शिविर काफी उपयोगी रहा। इससे हमें काफी मदद मिली। हमें पता चल गया है कि कोच क्या चाहते हैं। जूनियर खिलाड़ी भी तेजी से सीख रहे हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि इस अहम टूर्नामेंट में टीम की कप्तानी करके वह गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। टीम बदलाव के दौर से गुजर रही है। बाईचुंग भूटिया, रेनेडी सिंह और दीपक मंडल के जाने के बाद जूनियर खिलाड़ियों को बागडोर संभालनी है। भारत को ग्रुप बी में नौ मार्च को ताजिकिस्तान से, 11 मार्च को फिलीपीन और 13 मार्च को उत्तर कोरिया से भिड़ना है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छेत्री ने टीम को आत्ममुग्धता से बचने की ताकीद की