DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश की विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर बढ़ी: एचएसबीसी

देश के विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर फरवरी में बढ़ गई है। घरेलू स्तर पर ऑर्डर में इजाफे तथा अंतरराष्ट्रीय मांग में मजबूती से विनिर्माण क्षेत्र को बल मिला। एचएसबीसी के एक सर्वे में यह तथ्य सामने आया है।

कारखाना उत्पादन का संकेतक एचएसबीसी इंडिया का विनिर्माण खरीद प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई) फरवरी में 54.2 पर रहा। जनवरी में यह घटकर तीन माह के निचले स्तर 53.2 पर आ गया था। दिसंबर में यह 54.7 पर था।

इस सूचकांक के 50 के आंकड़े से नीचे जाने का मतलब गिरावट से होता है। तीन साल से अधिक से यह 50 से ऊपर बना हुआ है। भारत और आसियान में एचएसबीसी के मुख्य अर्थशास्त्री लीफ एस्केसन ने कहा कि घरेलू ऑर्डरों में मजबूती से विनिर्माण गतिविधियों में तेजी आई।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:देश की विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर बढ़ी: एचएसबीसी