DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत का लक्ष्य बढ़त, ऑस्ट्रेलिया का पलटवार

चेन्नई में हैरतअंगेज जीत दर्ज कर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर चुका भारत जब शनिवार को हैदराबाद में दूसरे टेस्ट के लिए मैदान पर उतरेगा तो उसका एकमात्र लक्ष्य विजई रथ को आगे ले जाना होगा जबकि खार खाई ऑस्ट्रेलिया का मेजबानों पर पलटवार कर बदला लेना।
 
चेन्नई में शानदार आठ विकेट से जीत दर्ज कर सीरीज में बढ़त हासिल करने के साथ ही इस समय टीम इंडिया न सिर्फ उत्साहित नजर आ रही है बल्कि अपनी जमीन पर इंग्लैंड के हाथों टेस्ट सीरीज़ गंवाने के बाद हतोत्साहित हो चुकी भारतीय टीम का खोया आत्मविश्वास भी लौटा है।
 
कप्तान धौनी चेन्नई टेस्ट में दोहरा शतक जमाकर आलोचकों का मुंह बंद कर चुके हैं और उनके इरादे साफ नजर आ रहे हैं कि वह हैदराबाद में भी अपनी कप्तानी का लोहा मनवा कर रहेंगे। धौनी की रणनीति और उनकी समझदारी यदि हैदराबाद में भी सटीक बैठती है तो उनके लिए यहां भी कंगारूओं को धूल चटाना कठिन नहीं होगा।
 
हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम को कहीं से भी कम नहीं आंका जा सकता है। हैदराबाद में ऑस्ट्रेलियाई टीम का मक्सद न सिर्फ मेजबानों पर पलटवार करना होगा बल्कि वह सीरीज पर अपनी खोई हुई पकड़ को वापस कसने का पूरा प्रयास करेगी।
 
दूसरे मुकाबले से पहले हैदराबाद में जमकर अभ्यास कर रहे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने जहां यहां की पिच पर संतोष जताया है वहीं साफ किया है कि उन्हें उम्मीद है कि चेन्नई से उलट इस पिच पर उनके गेंदबाजों के लिए करने को काफी कुछ होगा।

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की ही तरह भारतीय गेंदबाजों को भी चेन्नई का प्रदर्शन हैदराबाद में भी दोहराने की पूरी उम्मीद है। पिछले मुकाबले में कप्तान धौनी के अलावा यदि किसी खिलाड़ी का प्रदर्शन यादगार था तो वह थे रविचंद्रन अश्विन के कुल 12 विकेट।
 
अश्विन सहित अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और रवींद्र जडेजा से हैदराबाद में एक बार फिर बढ़िया प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है। हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में सबसे सफल गेंदबाज रहे प्रज्ञान ओझा को लेकर अभी भी संशय की स्थिति बनी हुई है। पिछले मुकाबले में कोई कमाल नहीं कर सके ईशांत शर्मा और युवा खिलाड़ी भुवनेश्वर कुमार से भी हैदराबाद में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को परेशान करने की उम्मीद की जा सकती है।
 
दूसरी ओर यदि बात की जाए बल्लेबाजी क्रम की तो कैप्टन कूल यदि हैदराबाद में भी चेन्नई की तरह शानदार पारी खेलते हैं तो वह ऑस्ट्रेलिया के लिए मुश्किल का सबब बन सकते हैं। धौनी ने चेन्नई में 265 गेंदों में 24 चौकों और छह छक्कों की मदद से 224 रनों की यादगार पारी खेली थी। इतना ही नहीं इस टेस्ट में जीत मिलने के साथ धौनी देश के और सर्वाधिक टेस्ट जीतने वाले दुनिया के नंबर एक कप्तान भी बन जाएंगे।
 
धौनी के अलावा हैदराबाद में जिन बल्लेबाजों पर सभी की निगाहें रहेंगी वह हैं टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर। सचिन ने पिछले मुकाबले में बेहतरीन 81 रनों की पारी खेली थी जबकि युवा बल्लेबाज विराट कोहली ने भी अपने प्रदर्शन में सुधार और परिपक्वता का परिचय देते हुए शानदार शतक लगाया था। टीम इंडिया के नए उभरते हुए बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा पहले ही पिछली पारियों की बदौलत अपनी नई पहचान बना चुके हैं।
 
टीम के अन्य अनुभवी खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग और ओपनिंग बल्लेबाज मुरली विजय ने भले ही निराश किया हो लेकिन इन बल्लेबाजों को हमेशा ही बड़े उलटफेर के लिए जाना जाता है। ऐसे में टीम इंडिया का बल्लेबाजी क्रम मजबूत और काफी संतुलित दिखाई दे रहा है।
 
दूसरी ओर ऑस्ट्रेलियाई टीम में इस समय जोर शोर से इस बात पर मंथन चल रहा है कि हैदराबाद में दो स्पिनरों को उतारा जाए या नहीं। यदि ऑस्ट्रेलियाई टीम में दो स्पिनरों को उतारे जाने का निर्णय लिया जाता है तो नेथन लायन के अलावा ग्लेन मैक्सवेल मैदान पर दिख सकते हैं।
 
पिछले मुकाबले में कुल छह विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे जेम्स पैंटिनसन और कुल चार विकेट लेने वाले लियोन के अलावा यदि मिशेल स्टार्क और पीटर सिडल हैदराबाद की परिस्थितियों के अनुकूल खुद को ढाल पाते हैं तो उनसे कुछ कमाल की उम्मीद जरूर की जा सकती है।
 
गेंदबाजी के साथ-साथ टीम का बल्लेबाजी क्रम कप्तान माइकल क्लार्क, शेन वॉटसन, डेविड वॉर्नर, ऑलराउंडर मोएसिस हैनरिक्स, ओपनर एड कोवन और फिलिप ह्यूज के रूप में काफी मजबूत और संतुलित है।

टीमें इस प्रकार हैं :
भारत : महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान), सचिन तेंदुलकर, मुरली विजय, रविचंद्रन अश्विन, शिखर धवन, अशोक डिंडा, हरभजन सिंह, रवींद्र जडेजा, विराट कोहली, भुवनेश्वर कुमार, प्रज्ञान ओझा, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, वीरेंद्र सहवाग, इशांत शर्मा।
ऑस्ट्रेलिया : माइकल क्लार्क (कप्तान), शेन वॉटसन, एशटन एगर, जैक्सन बर्ड, एड कोवन, जेवियर डोहार्ती, मोएसिस हैनरिक्स, फिलिप ह्यूज, मिशेल जॉनसन, उस्मान ख्वाजा, नेथन लायन, ग्लेन मैक्सवेल, जेम्स पैंटिनसन, पीटर सिडल, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मैथ्यू वेड, डेविड वॉर्नर।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत का लक्ष्य बढ़त, ऑस्ट्रेलिया का पलटवार