DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खेलों के विकास के लिए काम करूंगा: दिलीप टिर्की

ओडिशा में सत्तारूढ़ बीजू जनता दल के राज्यसभा उम्मीदवार और पूर्व हाकी कप्तान दिलीप टिर्की ने कहा कि वह राज्य में खेलों की बेहतरी के लिए काम करेंगे।

टिर्की ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि मुझे संसद में ओडिशा की नुमाइंदगी का मौका मिलेगा। मैं राज्य में खेलों के विकास के लिए काम करना चाहता हूं। यह पूछने पर कि क्या सक्रिय राजनीति में जाने का भी इरादा है, उन्होंने इससे इंकार कर दिया।

तीन बार के ओलंपियन (अटलांटा 1996, सिडनी 2000 और एथेंस 2004) ने कहा कि मैं सक्रिय राजनीति में नहीं जाना चाहता। मेरा लक्ष्य सामाजिक कार्य और खेलों का विकास करना है। हाकी से मैं हमेशा जुड़ा रहूंगा।

एयर इंडिया, भारतीय खेल प्राधिकरण और हाकी इंडिया की राष्ट्रीय चयन समिति में सरकारी पर्यवेक्षक के पद से इस्तीफा दे चुके टिर्की कल राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन भरेंगे। चुनाव 30 मार्च को होने हैं लेकिन टिर्की की जीत तय है क्योंकि राज्य विधानसभा में बीजू जनता दल के 103 सदस्य होने के कारण वह दो राज्यसभा सीटे आसानी से हासिल कर लेगा।
 
भारतीय हाकी की दीवार कहे जाने वाले टिर्की ने फिटनेस समस्याओं के कारण मई 2010 में हाकी को अलविदा कह दिया था। ओडिशा के सुंदरगढ़ में जन्मे 34 वर्षीय दिलीप दुनिया के सर्वश्रेष्ठ डिफेंडरों में गिने जाते हैं। इंग्लैंड के खिलाफ 1995 में अंतरराष्ट्रीय हाकी में पदार्पण करने वाले टिर्की 412 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं।
 
पिछले महीने हुए ओलंपिक क्वालीफायर से पहले उन्होंने भारतीय हाकी टीम के डिफेंस पर खासी मेहनत की थी। इससे पहले मास्को ओलंपिक (1980) की स्वर्ण पदक विजेता भारतीय हाकी टीम के कप्तान रहे असलम शेर खान ने मध्यप्रदेश के बैतूल से 1984 में लोकसभा चुनाव जीता था। एम्सटर्डम में 1928 में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय हाकी टीम के सदस्य रहे जयपाल सिंह बिहार के खूंटी से सांसद रह चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खेलों के विकास के लिए काम करूंगा: दिलीप टिर्की